जिला पंचाायत अध्यक्ष के साथ चिकित्सकों के विवाद से बनाई संगठन ने दूरी, जिलाधिकारी के सामने दोनों पक्षों की हुई मध्यस्थता

0
शेयर करें
जिला पंचाायत अध्यक्ष के साथ चिकित्सकों के विवाद से बनाई संगठन ने दूरी, जिलाधिकारी के सामने दोनों पक्षों की हुई मध्यस्थता

-भूपेन्द्र भण्डारी/केदारखण्ड एक्सप्रेस

रूद्रप्रयाग। वृस्पतिवार दोपहर में जिला पंचायत अध्यक्ष द्वारा दबंग स्टाइल में जिला चिकित्सालय में सीएमएस को बुरी तरह फटकार लगाने से बढ़े विवाद का भले ही आज अंत हो गया है लेकिन जिला पंचायत अध्यक्ष ने सोशल में जिस विशाल जूलूस के साथ जिला अधिकारी कार्यालय में प्रदर्शन और धरना देने का दावा किया था उसे जनता ने सिरे से नकार दिया और अध्यक्ष महोदया को उसकी जमीन दिखा दी। स्थिति यह रही की मुठ्ठी भर बीजेपी कार्यकताओं और जिला पंचायत कार्यालय के कर्मचारियों के अलावा इस विवाद में एक भी आम नागरिक वहां नहीं पहुँचा। उधर भाजपा संगठन ने भी इस पूरे विवाद में अध्यक्ष अमरदेई शाह से दूरी बनाई रखी। हालांकि आज जिलाधिकारी मंगेश घिल्डियाल के सम्मुख दोनो पक्षों के मध्यस्थता बन गई और अध्यक्ष तथा सीएमएस ने एक दूसरे को फूल भेंट कर गिला शिकवे खत्म कर दिये।
वृस्पतिवार को सीएमएस को फटकार लगाने के बाद जिला चिकित्सालय के डाॅक्टरों और कर्मचारियों में जिला पंचायत अध्यक्ष के खिलाफ भारी आक्रोश पनप गया था। आक्रोशित डाॅक्टरों ने जहां कल इसकी शिकायत जिलाधिकारी से की थी वहीं अध्यक्ष जिला पंचायत का पुतला भी दहन किया था। यह खबर जैसे ही मीडिया में प्रकाशित हुई तो जिला पंचायत अध्यक्ष अमरदेई शाह ने बिना देर किए हुए इस विवाद को और आगे बढ़ाते हुए जिला चिकित्सालय के डाॅक्टरों के खिलाफ जिलाधिकारी कार्यालय में विशाल जूलूस प्रदर्शन और धरना देने की बात सोशल मीडिया में फैला दी। सोशल मीडिया में जिला पंचायत अध्यक्ष की इस पोस्ट पर कल देर रात तक उनके प्रशंसकों और जिला अस्पताल के पक्षधरों के बीच जमकर वाद-विवाद चल रहा था। आज सुबह भी जिला पंचायत अध्यक्ष अमरदेई शाह ने अपनी फेसबुक पेज पर लोगों से इस जूलूस प्रदर्शन में अधिक से अधिक संख्या में भाग लेने का आग्रह किया। लेकिन स्थिति यह रही कि बीजेपी के चंद कार्याकताओं और जिला पंचायत कार्यालय के कर्मचारियों के अलावा कोई भी आम नागरिक जिला पंचायत अध्यक्ष कये साथ वहां नजर नहीं आया। खुद भाजपा संगठन ने भी इस पूरे विवाद से दूरी बनाई रखी। ऐसे में अध्यक्ष अमरदेई शाह के पास डाॅक्टरों से समझौता करने के आलावा कोई भी विकल्प नहीं बचा था। हालांकि बाद में हुआ भी यही और जिलाधिकारी मंगेश घिल्डियाल की मौजूदगी में दोनो पक्षों में समझौता हो गया। उधर जिला पंचायत अध्यक्ष अमरदेई शाह ने मीडिया के सामने भी जवाब देने से बचती नजर आई और मीडिया के किसी भी सवाल का जवाब देने से साफ इनकार कर दिया। इस मामले में जिलाधिकारी मंगेश घिल्डियाल ने कहा कि दोनों पक्षों के इस विवाद से जनता का ही नुकसान हो रहा था। लेकिन दोनों पक्षों की सामने वार्ता होने के पश्चात समझौता किया जा चुका है, अब किसी भी तरह का तनाव नहीं है। 

About Post Author

Leave a Reply

Your email address will not be published.








You may have missed

रैबार पहाड़ की खबरों मा आप कु स्वागत च !

X