टिहरी डीएम मंगेश का फरमान 1 मार्च से अब तक कितने प्रवासी आए घर प्रभारी शिक्षक देंगे जानकारी-देखें पूरी खबर

2
शेयर करें
1मार्च से कितने लोग आये  हैं  अब प्रभारी शिक्षक देंगे जानकारी

रैबार पहाड़ का ब्यूरो

 नई टिहरी – जिलाधिकारी  मंगेश घिल्डियाल ने जिला कार्यालय से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से खंड शिक्षा अधिकारियों की एक महत्वपूर्ण बैठक ली एवं आवश्यक दिशा निर्देश दिए। जिलाधिकारी ने कहा कि जनपद की समस्त ग्राम पंचायतों, नगर पंचायतों व नगर पालिकाओं के लिए 1-1 शिक्षकों की तैनाती की जा रही है। जिसमे ग्राम पंचायतों को 6-6, नगर पंचायतों व पालिकाओं को 4-4 वार्ड के रूप में बंटा गया है, जिनमे 1-1 शिक्षकों की तैनाती प्रभारी के रूप में की गई है।  जिलाधिकारी ने सभी प्रभारी शिक्षकों को तत्काल प्रशिक्षण देकर तैनाती के निर्देश दिए हैं।  जिलाधिकारी ने बताया कि तैनात किए जा रहे प्रभारी शिक्षकों को संबंधित गांव/वार्डो में 1 मार्च से अब तक कितने प्रवासी आए हैं, इस संबंध में सूचना एकत्र कर दैनिक रूप से प्रातः 8:00 बजे तक खंड शिक्षा अधिकारी को उपलब्ध करानी होगी। इसके उपरांत खंड शिक्षा अधिकारी इन सूचना को व्हाट्सएप ग्रुप के जरिए प्रातः 10:00 बजे तक जिला प्रशासन को उपलब्ध कराएंगे। इसके अलावा  प्रभारी शिक्षक ग्राम पंचायत स्तर पर कोरेंटिन किए गए प्रवासियों पर नजर रखेंगे, उनके  भोजन इत्यादि  की गुणवत्ता  एवं  उपलब्धता  के साथ ही आशा व आंगनवाडी कार्यकत्रियों  की  सेंटर पर  विजिट पर का भी अपनी दैनिक रिपोर्ट में जिक्र करेंगे।
 जिलाधिकारी ने  कहा कि ग्राम पंचायत स्तर पर तैनात प्रभारी शिक्षक प्रत्येक ग्राम पंचायत के ग्राम प्रधान से  8 से 10 सदस्यों  के नाम  लेकर  ग्रुप में साझा करेंगे। ताकि  ग्राम पंचायत स्तर पर  ग्राम निगरानी  समिति का  गठन किया जा सके।  कहा कि समिति में केवल ग्राम पंचायत  के ही सदस्य शामिल होंगे। उन्होंने कहा कि  ग्राम पंचायत निगरानी समिति बनाई जाने का उद्देश्य ग्राम प्रधान पर  प्रवासियों  के  क्वॉरेंटाइन अनुपालन जैसे  दबाव को कम करने के साथ ही प्रवासियों से कॉरेन्टीन अनुपालन शतप्रतिशत सुनिश्चित कराए जाने में भी आसानी होगी।
जिलाधिकारी ने सभी खंड शिक्षा अधिकारियों सोंपे गए दायित्वों का कुशलता पूर्वक निर्वहन करने के निर्देश दिए है। कहा की किसी भी प्रभारी को किसी प्रकार की समस्या नहीं आने दी जाएगी दी जाएगी। जिलाधिकारी ने कहा कि शिक्षक अध्यापक समाज के निर्माता होते हैं। वह हर स्तर पर चाहे निर्वाचन हो या कोई अन्य अभियान शिक्षक हमेशा अपने दायित्वों का शत प्रतिशत निर्माण करते हैं। जिलाधिकारी ने कहा कि ये समय ऑनलाइन पढ़ाई का भी है। लेकिन मेन पावर के दृष्टिगत शिक्षकों की तैनाती करना आवश्यक हो जाता है।

About Post Author

2 thoughts on “टिहरी डीएम मंगेश का फरमान 1 मार्च से अब तक कितने प्रवासी आए घर प्रभारी शिक्षक देंगे जानकारी-देखें पूरी खबर

  1. हमें आपसे बहुत उम्मीद है sir हमारा भविष्य आपके हाथों में sir ji����

Leave a Reply

Your email address will not be published.








You may have missed

रैबार पहाड़ की खबरों मा आप कु स्वागत च !

X