पर्यटन घुमक्कडी की अथाह संभावना पालाकुराली

0
शेयर करें
–पर्यटन घुमक्कडी की अथाह संभावना—
             —– पालाकुराली—

पंवाली कांठा 


अश्विनी गौड़ (लेखक)#tracking #adventure #amazing #tour—-#incredile #uttrakhand 
नैसर्गिक छटाओं के बीच बसा पालाकुराली  जखोली ब्लाॅक 7200 फीटभर ऊंचाई पर बसा एक सुंदर गांव है।

खल्वा के ऊपर प्रसिद्ध झील


पर्यटन की अपार संभावना  संभाले ये स्थल पर्यटकों की घुमक्कड दृष्टि से काफी दूर है।  इसलिए इनको खूब प्रचारित प्रसारित करने की जरूरत है।

पटांगणियां बूरांश कांठा


 नैसर्गिक नजारों के साथ आपको प्रकृति की गोद मे हंसने खेलने और घूमने के साथ यहाँ के पारंपरिक पहाड़ी शैली के मकान होम स्टे के लिए भी बेहतर विकल्प है।
 प्राकृतिक सौन्दर्य के साथ आपको यहाँ से हिमालय श्रृंखला व्यू देखने का भी अद्भुत नजारा दिखेगा।

पंवाली कांठा को निहारते पर्यटक


 आत्मीयता से भरे पड़े इस गांव मे आप ऊपर चढ़ाई चढ़ते हुए  खुद को एक बेहतरीन पर्यटन स्थली मे पाएँगे।
 पर्यटकों की अथाथो घुमक्कडी की बाट जोहते ये स्थल फिल्म शूटिंग को भी न्यौता दे रहे है।
   उच्च बुग्याळीय क्षेत्रों मे पहुँचने पर ट्रेकिंग कर रूद्रप्रयाग के इस गांव से टिहरी गंगी भिलंग, त्रियुगीनारायण, और श्रीकेदारधाम जैसे स्थलों तक रोमांचक अनुभूति के साथ ट्रेकिंग कर सकते है।

पालाकुराली गांव


 इस गाँव के कुछ  युवा इन ट्रेकिंग रूटस पर आपको गाइड बनकर आत्मीयता के साथ उचित प्रबंधन कर आपकी घुमक्कडी का प्रकृति से साक्षात्कार करवाने का कार्य कर सकते है।
खानपान मे आपको ठेठ पहाड़ी कफलू ढेपलि चौंसू थिंच्वांणी भटवांणी सब डिंमाड पर मिल सकेगा।

ये युवा हर साल इन ट्रेकिंग रूटस पर इन यात्राओं को पूरा करते है, जिनका अनुभव आपको इन बुग्याळों कांठो सौड़ में प्रकृति से परिचय करवाता रहेगा।
 पालाकुराली तक पहुँचने के लिए आप उत्तराखंड राज्य के जनपद रूद्रप्रयाग पहुँचना पड़ेगा फिर आप तिलवाडा बाजार से एल टर्न लेते हुए मयाली की तरफ निकलोगे जहाँ से चिरबटिया रूट पर रास्ते मे आपको दुगड्डा बाजार मिलेगा।
 ये  पालाकुराली का स्थानीय बाजार है जहाँ पर बुरांश होटल से लेकर दुगड्डा और चिरबटिया तक आपको ठहरने की उच्च संभव सुविधा युक्त मोटल-होटल मिलेगे।

 तो अथाह पर्यटन  और  अथाथो घुमक्कडी  के विकल्पों की संभावनाओं के साथ फिल्म शूटिंग का बेहतर विकल्प पालाकुराली ट्रेकिंग और पर्यटन आपका इंतजार कर रहा है ।
 बस घूमने और पहाड़ चढ़ने का जोश जिंदा रखिए और चले आओ  अभिनंदन——
 यात्रा रूट कुछ यूँ रहेगा—-
उत्तराखंड ????रूद्रप्रयाग ????तिलवाडा????मयाली????दुग्ड्डा ????पालाकुराली ????

About Post Author

Leave a Reply

Your email address will not be published.








You may have missed

रैबार पहाड़ की खबरों मा आप कु स्वागत च !

X