लुठियाग जखोली के महादेव का हत्यारा कौन-देखिए पूरी रिपोर्ट





                
हरेंद्र सिंह कैन्तुरा,मृतक परिजन
  • पिछले आठ सालों से दिल्ली के मंगोलपुरी स्वीप्ट इन होटल में महादेव काम कर रहा था
  • बचपन में मां बाप का साया सिर से उठ गया था
  • महादेव की एक बहन है पूजा जो अब पूरी तरह से अनाथ हो गरी
  • महादेव के खाते में ढाई लाख जमा है
  • प्रेम प्रसंग और पैसों का लालच हो सकता हत्या का कारण
  • होटल स्वामी परिजनों को नही मिला
  • होटल के स्वामी ने सीसीटीवी फुटेज दिखाने से किया इंकार




यह होटल जहां महादेव काम करता था
                     
लंम्बे समय से उत्तराखण्ड सी बहारी राज्यों मैं उत्तराखण्डी के युवा रोजगार के लिए दिल्ली मुम्बई शहर में कई अप्रिय मामला सामने आये हैं  पिछले साल जनपद टिहरी के घनसाली के युवक की बैंगलोर में हत्या की गयी थी । एसी घटनाये उत्तराखण्डियों के साथ लगातार होती जारही है जो एक गंम्भीर चिन्ता विषय है। एसे ही मामला आया जनपद रुद्रप्रयाग के जखोली ब्लाक के ग्राम लुठियाग चिरबटिया निवासी महादेव सिंह कैन्तुरा के साथ 15 मार्च रविवार के दिन सोशल मीडिया पर अचानक एक पोस्ट आई की महादेव सिंह कैन्तुरा ने सुसाइड कर दिया और उसका शव होटल की कमरे की छत के पंखे से झूलते हुए पाया गया । आपको बता दैं की महादेव कैन्तुरा गुड़गांव के  दिल्ली मंगोलपूरी swift innहोटल में पिछले आठ वर्षों से कार्यरत था । और साथियों द्वारा उसकी मौत की सूचना ग्राम प्रधान दिनेश कैन्तुरा को दी गयी और सूचना मिलने पर महादेव का भाई उपेन्द्र और गांव के  लोग दिल्ली पहुंचे जैसी और ये खबर सोशल मीडिया पर आग की तरह फैल गयी और दिल्ली में गांव के लोगों ने  मिलकर  शव का पोस्टमार्टम करने के बाद अंतिम संस्कार किया गया


महादेव के माता पिता का साया बचपन से ही महादेव के सर से उठ गया था और ये परिवार का  इकलोता लड़का था। और एक बहन है । नगेला देवता के सामाजिक संस्था के अध्यक्ष प्रदीप कैन्तुरा का कहना है की  कुछ दिन पहले महादेव की बात उनसे हुई थी की भेजी मैं देहरादून मैं प्लॉट खरीदने की बात कर रहा था। जिस कारण आत्म हत्या जैसा कदम कभी नहीं उठा सकता है।

                  प्रदीप कैन्तुरा-अध्यक्ष नगेला ग्रुप 

मृतक के भाई हरेन्द्र कैन्तुरा का कहना है की  होटल कर्मियों द्वारा पहले युवक को दिल के दौरे पड़ने की खबर दी गयी है । बाद में होटल जाकर देखा तौ महादेव   का शव पंखें में झूलता पाया गया । ऐसे में संभव पैंसों के लालच में युवक की हत्या की गयी है इतना ही नही महादेव के खाते में ढाई लाख रुपया था और सूत्रों का कहना है की महादेव का किसी लड़की से अफियर चल रहा था और उस लड़की के रिस्तेदार उस होटल में कार्यरत है। प्रधान समेत राजेन्द्र कैन्तुरा उपेन्द्र कैन्तुरा  समेत तमाम लोगों ने होटल स्वामी से बात करने की कोशिश की तो होटल स्वामी  बात को टालने की कोशिश की इतना ही नही शमशान घाट में एक लकड़ी देने तक नही  आई अब सवाल है की महादेव का हत्यारा कौन


सभी दोस्तों से में दीपक कैन्तुरा अपील करता हूं की मेरे चचेरे भाई महादेव को इंसाफ दिलाने में सहयोग करें।

टिप्पणी पोस्ट करें

1 टिप्पणियां

  1. सभी से अनुरोध कि इसको आगे सरकार के कानों तक पहुंचाएं ताकि भाई को इंसाफ मिले

    जवाब देंहटाएं