लॉक डाउन में भूखों का मसीहा बने सतेन्द्र सिंह रावत-देखिए पौड़ी से कुलदीप बिष्ट की रिपोर्ट

लॉक डाउन में भूखों का मसीहा बने  सतेन्द्र सिंह रावत-देखिए पूरी खबर


-जहां एक और कोरोना वायरस से लड़ने के लिए पूरा विश्व एकजुट होकर इस लड़ाई में अपनी हिस्सेदारी दे रहा है, तो वही पौड़ी जिले का एक शख्स ऐसा भी है जो इस लड़ाई में बिना कैमरे की नजर में आए हुए अपने कर्तव्य का निर्वहन बड़ी ही शिद्दत से दे रहा है,यह शख्स ना तो किसी राजनीतिक पार्टी से ताल्लुक रखता है और ना ही चकाचौंध वाली समाजसेवी संस्थाओं से, यह शख्स कैमरों की नजाकत से दूर रात के अंधेरे में असहाय और भूखे लोगों के लिए मसीहा बन के सामने आता है,जिन लोगों को लॉक डाउन की वजह से एक वक्त का भोजन भी नसीब नहीं हो पा रहा हैं,उन लोगों के लिए अन्न दाता बन कर आ रहा है यह शख्स। हालांकि जिला प्रशासन ने ऐसे लोगों के लिए तमाम योजनाएं बना रखी है मगर इसके बावजूद भी बहुत से ऐसे लोग हैं जो इन योजनाओं के बावजूद भी इन योजनाओं के से दूर ही रह जाते हैं, ऐसे ही लोगों की मदद करने के लिए मसीहा बन के आ रहा है सत्येंद्र रावत नाम का यह शख्स, रात के अंधेरे में इन असहाय और भूखे लोगों के लिए भोजन घर से बना कर परोस रहा है सतेंद्र रावत। सतेंद्र को ना तो किसी राजनीतिक पार्टी की जरूरत है और ना ही किसी चकाचोंध वाली समाज सेवी संस्था की। यह शख्स रात के अंधेरों में मसीहा बनकर इन लोगों के लिए खाना परोसने का काम करता है जहां पूरे प्रदेश में समाजसेवी संस्थाओं की बाढ़ आई हुई है, जो समय-समय पर सोशल मीडिया के माध्यम से आपने कामों को दर्शाते रहते हैं मगर यह शख्स बिना किसी स्वार्थ के इन भूखे लोगों को भोजन मुहैया करा रहा है लोकजन सलूट करता हैं ऐसे शख्स को जो बिना किसी की नजरों में आए हुए ऐसे लोगों को भरपेट भोजन कराने का काम कर रहा है जो काम सरकार,जिला प्रशासन और नगर पालिका प्रशासन को करना चाहिए वह काम यह शख्स बखूबी निभा रहा है।

टिप्पणी पोस्ट करें

0 टिप्पणियां