Page Nav

HIDE

Grid

GRID_STYLE

Hover Effects

TRUE
{fbt_classic_header}

Header Ad

Breaking News:

latest

Ads Place

कोरोना को लेकर त्रिवेन्द्र कैबिनेट ने लिए कई महत्वपूर्ण निर्णय राज्य में बढ़ाया जा सकता है लॉक डाउन ?

उत्तराखंड कैबिनेट फैसलाः नहीं कटेगा दायित्वधारियों का वेतन पूरी तरह केंद्रीय कैबिनेट के फैसले पर नहीं किया गया अमल लाकडाउन पर निर्णय क...

उत्तराखंड कैबिनेट फैसलाः नहीं कटेगा दायित्वधारियों का वेतन

पूरी तरह केंद्रीय कैबिनेट के फैसले पर नहीं किया गया अमल

लाकडाउन पर निर्णय के लिए मुख्यमंत्री को किया अधिकृत




देहरादून। त्रिवेंद्र कैबिनेट की बैठक में उत्तराखंड के विधायकों की निधि से दो साल के लिए महज एक-एक करोड़ की कटौती का ही फैसला लिया गया। विधायकों के वेतन में एक साल के लिए 30 फीसदी कटौती की गई है। अलबत्ता दायित्वधारियों के वेतन-भत्तों में कोई कटौती नहीं होगी। त्रिवेंद्र कैबिनेट पूरी तरह से केंद्र की मोदी कैबिनेट की तरह तमाम फैसले नहीं ले सकी।
दो घंटे तक चली कैबिनेट की इस बैठक में लिए गए फैसलों के बारे शासकीय प्रवक्ता मदन कौशिक ने जानकारी दी। उन्होंने बताया कि केंद्रीय कैबिनेट की तर्ज पर ही त्रिवेंद्र कैबिनेट ने भी विधायकों, मंत्रियों और मुख्यमंत्री के वेतन में एक साल के लिए 30 फीसदी कटौती का फैसला किया है। एक सवाल पर उन्होंने कहा कि भत्तों आदि के बारे में भी केंद्र की गाइड लाइन के अनुसार ही फैसला होगा। उन्होंने साफ कर दिया गया कि सरकारी दायित्ववालें नेताओं के वेतन में कटौती पर कोई फैसला नहीं हुआ।
केंद्र ने जहां सांसदों की निधि दो साल के लिए पूरी तरह से स्थगित की है। वहीं उत्तराखंड में विधायकों की निधि में से केवल एक-एक करोड़ की कटौती दो साल के लिए होगी। यहां बता दें कि एक विधायक को उसकी निधि में सालाना साढ़े तीन करोड़ रुपये मिलते हैं।
शासकीय प्रवक्ता ने बताया कि करोना संकट से निपटने के लिए सरकार ने व्यापक स्तर पर तैयारियां की हैं। एक सवाल पर उन्होंने कहा कि लाकडाउन अवधि में कमी आदि पर कोई भी फैसला लेने के लिए कैबिनेट ने मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत को ही अधिकृत कर दिया है।


No comments

Ads Place