कोरोना लॉक डाउन में जरूरतमंदों के मसीहा बने टिहरी के बच्चन सिंह रावत-देखें पूरी खबर



फाइल फोटो-प्रसिद्ध समाजसेवी बच्चन सिंह रावत


 टिहरी- टिहरी जनपद के ग्राम-ढुंग बजियाल गाँव, पट्टी ग्यारह गांव हिंदाव के मूल निवासी श्री बच्चनसिंह रावत एवं उनकी धर्मपत्नी श्रीमती दर्शनी रावत जी ने लाकडाउन में गरीबों के संकट को कम करने का बीड़ा उठा रखा है. समाजसेवी श्री बच्चनसिंह रावत जी ने आज हरिद्वार में कुष्ठ रोग से पीड़ित लगभग 100 परिवारों के लिए हरिद्वार में रशन का वितरण किया.



फाइल फोटो-बच्चन सिंह रावत,द्वारा जरुरतमंदों को पहुंचाया गया राशन

श्री बच्चनसिंह रावत जी के सौजन्य से कुष्ठरोगियों को बंटा राशन
टिहरी, पौड़ी, उत्तरकाशी, चमोली के गरीबों की मिटा रहे भूख
टिहरी. टिहरी जनपद के ग्राम-ढुंग बजियाल गाँव, पट्टी ग्यारह गांव हिंदाव के मूल निवासी श्री बच्चनसिंह रावत एवं उनकी धर्मपत्नी श्रीमती दर्शनी रावत जी ने लाकडाउन में गरीबों के संकट को कम करने का बीड़ा उठा रखा है. समाजसेवी श्री बच्चनसिंह रावत जी ने आज हरिद्वार में कुष्ठ रोग से पीड़ित लगभग 100 परिवारों के लिए हरिद्वार में रशन का वितरण किया.




उत्तरखंड में समाज का कोई भी गरीब लाकडाउन में भूखा न रहे श्री बच्चनसिंह रावत लगातार समाजसेवी संगठनों के माध्यम से लोगों को राशन पहुंचा रहे हैं. श्री रावत जी को सूचना मिली थी कि हरिद्वार में कुष्ठ रोग से पीड़ित गरीब परिवारों को मदद की जरूरत है, इस सूचना पर श्री गणेश उत्सव समिति भेल हरिद्वार व जय बजरंग बली संगठन को धनराशि भेजकर आज यहां सभी को राशन बांटी गई. इसके साथ ही कल ऋषिकेश में भी कुछ ऐसे ही परिवारों को राशन का वितरण होगा.
फाइल-जरूरतमंदों के लिए रखा गया राशन



समाजसेवी श्री बच्चनसिंह रावत जी उत्तराखंड के टिहरी, पौड़ी, उत्तरकाशी, चमोली जिलों में गरीबों की मदद में लगातार राशन आदि बांट रहे हैं, इसके अलावा अन्य प्रांतों में भी गरीब परिवारों, मजदूरों की सेवा का कार्य कर रहे हैं. उल्लेखनीय है कि श्री बच्चनसिंह रावत जी इससे पहले टिहरी जिलाधिकारी के राहत कोष में 2 लाख 71 हजार की मदद राशि भेजकर गरीबों की मदद में जिला प्रशासन के साथ हाथ बंटा चुके हैं. समाजसेवी श्री बच्चनसिंह रावत जी महानगरों में फंसे उत्तराखंड के लोगों के लिए भी वहां के सामाजिक संगठनों के जरिए व व्यक्तिगत तौर पर भी आर्थिक मदद कर उन्हें राहत पहुंचा रहे हैं.

टिप्पणी पोस्ट करें

0 टिप्पणियां