87हजार लोगों ने किया उत्तराखंड वापस आने के लिए रजिस्ट्रेशन-देखें पूरी खबर





देहरादून-मुख्यमंत्री  त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने राज्य से बाहर फंसे उत्तराखंड के लोगों को वापस राज्य में लाने की तैयारियों की समीक्षा की। मुख्यमंत्री ने कहा कि संबंधित राज्यों से समन्वय बनाते हुए सुनियोजित तरीके से सारी व्यवस्था की जाए। इसमें पूरी सावधानी के साथ व्यक्तिगत दूरी, मास्क, सेनेटाइजेशन आदि मानकों का पालन सुनिश्चित किया जाए। जिन लोगों को वापस लाया जाना है, कोरोना संक्रमण के दृष्टिगत उनकी समुचित स्क्रीनिंग की जाए। 
मुख्यमंत्री ने कहा कि केन्द्र सरकार द्वारा जारी दिशानिर्देशों के अनुरूप ही सारी कार्यवाही हो।
राज्य में आने पर यदि होम क्वारेंटाईन किया जाता है तो यह भी सुनिश्चित किया जाए कि होम क्वारेंटाईन का सख्ती से पालन हो। इसके लिये आवश्यक होने पर ग्राम प्रधानों को कुछ अधिकार दिये जा सकते हैं।

सचिव  शैलेश बगोली ने बताया कि अभी तक 87 हजार लोगों ने वापस आने के लिए अपना पंजीकरण कराया है। इनमें अधिकांश लोग पर्वतीय जिलों के हैं।

बैठक में मुख्य सचिव  उत्पल कुमार सिंह, डीजीपी श्री अनिल कुमार रतूङी, सचिव अमित नेगी,  नितेश झा, श्रीमती राधिका झा भी उपस्थित थे। 

7 Comments

  1. आपको सरकार कैसे सुरक्षित आपके घर पहुंचाया जा सकता बस से रेल से या अन्य संसाधनों से कृपया अपना सुझाव जरुंर दैं-धन्यवाद

    ReplyDelete
    Replies
    1. किसी भी चीज बस एंड छोटी गाड़ियां मगर जहां बस सर्विस नहीं है वहां छोटी गाड़ियों से और सबसे बड़ी प्रॉब्लम कि जो रास्ते में जगह होता 14 दिन रहना पड़ता है वह उसी को रखें जिस पर थोड़ा बहुत शक हो बाकी सभी को जांच करके गांव घर भेज दे और अकेले रहने की जिम्मेदारी ग्राम प्रधान के ऊपर डाल दे यह सबसे अच्छा सुझाव है और जो जाना चाहता है किराया वह खुद पे करें चाहे मैं ही खुद क्यों ना हो

      Delete
  2. उत्तराखंड को योगी जैसे मुख्यमंत्री की जरूरत है।

    ReplyDelete
  3. कोई सम्पूर्ण परिवार जाना चाहता हो तो उसके लिए क्या सर्त है।परिवार वाले सारे स्वस्थ हैं तो उनके लिए जाँच के बाद क्या नियम हैं जरूर बताये

    ReplyDelete
  4. तूम तो कसे भी नहीं पहुंचा सकते हो

    ReplyDelete
  5. Bus driver ka namber mil sakta h jo rajasthan jaipur me aayi ho

    ReplyDelete

Post a comment

Previous Post Next Post