अब फिर से आत्मनिर्भ बन रहा हमारा पहाड़


देहरादून-कोरोना महामारी के चलते उत्तराखंड के गांव की उपजाऊ भूमि पर फूलों की खेती को प्रोत्साहन दिया जा रहा है साथ ही इसमें ग्रामीणों को आत्मनिर्भर बनाने की भी कोशिश की जा रही है यह आत्मनिर्भरता के साथ-साथ आजिविका का साधन  भी बन रहा है।



उद्योग विभाग के सहयोग से जनपद पौड़ी गढ़वाल में पुष्प उत्पादन को व्यवसायिक दृष्टि से बढ़ावा देने के लिये पहल शुरु की गयी है उत्तराखंड विकेन्द्रीकृत परियोजना फेस- 2 के अनतर्गत एकेश्वर एंव पोखड़ा विकासखंड के विभिन्न ग्रामों के कास्तकारों द्वारा विभिन्न प्रजातीयों के पुष्पों का सफलतापूर्वक उत्पादन किया गया।



जिसे देखकर सीएम त्रिवेन्द्र सिंह रावत का कहना है कि मैं ऐसे किसानों को, जो एक नई सोच एंव नये प्रयोगों के साथ कृषि एंव बागवानी के क्षेत्र में कार्य कर रहे हैं, मैं उन्हे बधाई एंव शुभकामनाँए देता हूँ। राज्य सरकार किसानों  के उत्पादों को बाजार उपल्बध करवाने हेतु प्रयासरत है।

टिप्पणी पोस्ट करें

0 टिप्पणियां