टिहरी की बेटी बनेगी भारत की पहली महिला जिसको मिलेगा संयुक्त राष्ट्र सैन्य जेंडर अवार्ड

टिहरी की बेटी बनेगी भारत की पहली महिला जिसको मिलेगा संयुक्त राष्ट्र सैन्य जेंडर अवार्ड

दीपक कैन्तुरा (रैबार पहाड़ का)
कब तक पैंरों से धूल फांकते रहोगें
कब तक दूर तारों को देखते रहोगें 
तुम जरुर तारा बनकर चमकोंगे
अगर अथक प्रयास करते रहोगें 



  • भिलंगना विकास खण्ड के पोखाल निवासी सुमन गंवानी
  • भारतीय सेना में मेजर है सुमन गंवानी
  • 2018में एक साल के लिए संयुक्त राष्ट्र मिशन के लिए दक्षिण सूडान में थी तैनात
  • 2019में सुमन मिशन पूरा करके भारत लौटी है


देहरादून-यें पंक्तिया सार्थक की टिहरी गढ़वाल की बेटी भारतीय सेना की मेजर सुमन गवानी को 29 मई को संयुक्त राष्ट्र सैन्य जेंड़र एड़वोकेट ऑफ द. इयर 2019 के अवार्ड के लिए भारत से उनको चुना गया जैसे ही इस अवार्ड की घोषणा हुई तो पूरे देश के साथ उत्तराखण्ड में खुशी की लहर छा गयी। आपको बता दें कि 29 मई को संयुक्त राष्ट्र के महासचिव के हाथों मेजर सुमन गवानी को यह सम्मान मिलेगा रैबार पहाड़ की टीम को उनके पिता प्रेम सिंह गवानी ने बताया है कि हमें खुशी के साथ अपने आप को गौरवांनवित महसूस कर रहे हैं। उन्होंने कहा आज सुमन ने अपनी कामयाबी से देश का परचंम दुनिया में फहराया है। मेजर सुमन गवानी एक साल के लिए सयुंक्त राष्ट्र मिशन के लिए दक्षिण सूड़ान में तैनात थी वर्ष 2019 में सुमन मिशन पूरा करके भारत लौटी थी। आपको बता दें कि संयुक्त राष्ट्र सैन्य जेंडर एडवोकेट अवार्ड के लिए दक्षिण सूड़ान में सयुक्त राष्ट्र मिशन में तैनात भारतीय सेना की अधिकारी और महिला तथा ब्राजील की सेना की एक कमांडर का चुनाव करते हुए संयुक्त राष्ट्र प्रमुख एंतोनिया गुतारेस ने मेजर सुमन गवानी को प्रभावीशाली आदर्श बताया । ब्राजील नौ सेना की अधिकारी कमांडर कर्ला मोंटेइरो डे कास्त्रों अराजो को संयुक्त राष्ट्रीय शांतिदूत अंतराष्ट्रीय दिवस के दिन 29 मई को आयोजित एक ऑनलाइन कार्यक्रम में सम्मानित किया जायेगा। मेजर गवानी ने मिशन पूरा करके दुनिया में इतिहास रचा है।

टिप्पणी पोस्ट करें

1 टिप्पणियां

  1. अति सराहनिय , आज की पीढी के लिए सबसे बडी़ प्रेरणा, मेजर सुमन को नमन्,,,,,,,,,,

    जवाब देंहटाएं