टिहरी डीएम मंगेश ने टिहरी से उखाड़ फेंका कोरोना-देखें पूरी खबर

टिहरी डीएम मंगेश ने टिहरी से उखाड़ फेंका कोरोना-देखें पूरी खबर



नई टिहरी:-जनपद में कोरोना वायरस बची-खुची संभावनाओं को जड़ से उखाड़ फेंकने के लिए जिलाधिकारी मंगेश घिल्डियाल ने पूरे जनपद के  एक्टिव सर्विलेंस करने का निर्णय लिया है। जिसके तहत 6 से 15 जुलाई तक स्वास्थ्य विभाग एवं आशा कार्यकत्रियों द्वारा जनपद के प्रत्येक परिवार का घर-घर जाकर एक्टिव सर्विलांस किया जाएगा। जिलाधिकारी द्वारा जारी आदेश में कहा गया है कि 


कोविड-19 से जनपद की सुरक्षा हेतु एक्टिव सर्विलांस एक महत्वपूर्ण तरीका है। सर्विलांस के दौरान स्वास्थ्य विभाग की टीम/आशा कार्यकत्री को जनपद के क्षेत्र अंतर्गत अपने क्षेत्र के प्रत्येक घर/परिवार के पास जाकर घर के सदस्यों के स्वास्थ्य के बारे में जानकारी इकट्ठी करनी होगी। कहा है कि यदि घर /परिवार सदस्य के अंदर आई ०एल ०आई० या एस० ए ०आर० आई० (सर्दी, जुकाम खांसी, बुखार या सांस लेने में परेशानी) के लक्षण हो तो इसकी जानकारी तत्काल संबंधित प्रभारी चिकित्साधिकारी प्रभारी चिकित्सा अधिकारी (एम०ओ०आई०सी) को अवगत कराना होगा। एक्टिव सर्विलांस के दौरान आशा कार्यकत्रियों को प्रोत्साहित करने के साथ ही उनकी समस्याओ को भी प्रारूप में स्पष्टतः उल्लेखित करने के निर्देश दिए गए है। एक्टिव सर्विलांस को कारगर बनाये जाने के लिए जिलाधिकारी ने तहसीलवार अधिकारियों/कार्मिको को नामित किया है। नामित  15 जुलाई 2020 तक चलने वाले एक्टिव सर्विस के मध्य नजर तहसील वार आवंटित ग्रामपंचायतों के लिए 1049 अधिकारियों/कार्मिकों को नामित किया गया है। नामित अधिकारी/कर्मचारियों को आवंटित ग्राम पंचायत का स्थलीय भ्रमण करते हुए निर्धारित बिंदुओं पर अपनी सुपुष्ट आख्या 10 अथवा 11 जुलाई की शाम 5:00 बजे तक हर हाल में तक संबंधित तहसील को उपलब्ध कराने के निर्देश दिए है। बात दे कि एक्टिव सर्विलांस के लिए  जिलाधिकारी ने स्वम् को टिहरी तहसील के ग्राम पिपली हेतु नामित किया है। एक्टिव सर्विलांस के दौरान नामित अधिकारियों/कर्मचारियों को जनपद की आशा कार्यकत्रियों की समस्याओं से संबंधित बिंदुओं को भी निर्धारित प्रारूप में शामिल किये जाने के निर्देश दिये है।

टिप्पणी पोस्ट करें

1 टिप्पणियां