हेमवती नंदन बहुगुणा गढ़वाल विश्वविद्यालय के भूगोल विभाग में सात दिवसीय फैकेल्टी डेवलपमेंट प्रोग्राम का शुभारंभ

हेमवती नंदन बहुगुणा गढ़वाल विश्वविद्यालय के भूगोल विभाग में सात दिवसीय फैकेल्टी डेवलपमेंट प्रोग्राम का शुभारंभ


शुभारंभ की फोटो


Sub heading -  कुलपति अन्नपूर्णा नौटियाल ने किया इसका उद्घाटन
इस सात दिवसीय फैकेल्टी डेवलपमेंट प्रोग्राम के संयोजक हैं  प्रोफेसर  महावीर सिंह नेगी की विभागाध्यक्ष भूगोल गढ़वाल विश्वविद्यालय


हेमवती नंदन बहुगुणा गढ़वाल विश्वविद्यालय के  भूगोल विभाग द्वारा आई. ए.एस.ई. डीम्ड विश्वविद्यालय सरदारशहर चुरु राजस्थान के सहयोग से एक सप्ताह का फैकेल्टी डेवलपमेंट प्रोग्राम शुरू हुआ जो 21 जुलाई से 27 जुलाई तक संचालित किया जाएगा।इस कार्यक्रम  का उद्घाटन हे न ब  गढ़वाल वि वि की कुलपति प्रोफेसर अन्नपूर्णा नौटियाल द्वारा किया गया. उनके द्वारा कार्यक्रम की सराहना करते हुए भूगोल के अतिरिक्त विभिन्न विषयों  भू गर्भ विज्ञानं , पर्यावरण विज्ञानं, पुरातत्व विभाग  आदि   विषयों में भौगोलिक सूचना तंत्र (जी आई एस ) का आके के समय  में बहुत  अधिक  महत्त्व  है । उन्होंने कहा कि इस सात  दिवसीय कार्यक्रम का लाभ निश्चित रूप से शिछ्कों एवं शोध छात्रों जो   देश के विभिन्न क्षेत्र से इसमें  प्रतिभाग कर  रहे हैं उनको  मिलेगा । इस कार्यक्रम  के संयोजक प्रोफेसर महाबीर  सिंह नेगी विभागाध्यक्ष भूगोल हे न  ब गढ़वाल वि वि   द्वारा अपने  स्वागत संबोधन में एक  सप्ताह तक चलने वाले कार्यक्रम की रूपरेखा प्रस्तुत की. उन्होंने क्वांटम  जीआईएस  सॉफ्टवेयरके साथ रिसर्च मेथोडोलॉजी, डिजिटल इमेज प्रोसेसिंग का प्रशिक्षण दिया जायेगा    किस प्रकार उपयोगी है इस कार्यक्रम में प्रशिक्षण दिया जाएगा । इसके साथ उन्होंने कुलपति प्रोफेसर अन्नपूर्णा नौटियाल का स्वागत करते हुए इस बात के लिए आभार व्यक्त किया कि विभाग द्वारा समय-समय पर आयोजित कार्यक्रमों में उनका सक्रिय सहयोग विभाग को प्राप्त होता रहता है उनके निर्देशन में निश्चित रूप से विश्वविद्यालय नई ऊंचाइयां प्राप्त करेगा। इस अवसर पर श्रद्धानंद कॉलेज दिल्ली विश्वविद्यालय के भूगोल विभाग के डॉ दलजीत सिंह जो ज्वाइंट को-ऑर्डिनेटर व  मास्टर ट्रेनर भी हैं उन्होंने क्यू  जी आई एस तथा अन्य सॉफ्टवेयर के बारे में विस्तार से जानकारी दी। डीन स्कूल ऑफ अर्थ  साइंस प्रोफेसर आर एस पवार ने संबोधन में कार्यक्रम के समन्वयक प्रोफेसर महावीर सिंह नेगी तथा आयोजन समिति के सभी सदस्यों को बधाई देते हुए इस तरह के कार्यक्रमों से निश्चित रूप से उच्च शिक्षा के क्षेत्र में कार्य करने वाले शिक्षक छात्र के लिए यह प्रशिक्षण बहुत ही उपयोगी सिद्ध होगा। कार्यक्रम के आयोजन सचिव डॉक्टर एलपी लखेडा ने कुलपति सहित सभी अतिथियों शिक्षकों शोध छात्रों का आभार व्यक्त किया। कार्यक्रम का संचालन शोध छात्रा नेहा चौहान ने किया। इस अवसर पर पूर्व विभागाध्यक्ष प्रोफेसर एम एस एस रावत को-ऑर्डिनेटर डॉ सुनील कुमार विभागाध्यक्ष भूगोल आई ए एस ई डीम्ड विश्वविद्यालय चुरु राजस्थान  सह समन्यक  प्रोफेसर एम एस पवार, प्रोफेसर बी पी नैथानी ,भूगोल विभाग हे न ब  गढ़वाल विश्वविद्यालय, डॉ मुकेश कुमार स्वामी श्रद्धानंद कॉलेज दिल्ली विश्वविद्यालय आयोजन सचिव डॉ.एल पी लखेड़ा, डॉ राजेश भट्ट ,डॉ अतुल कुमार भूगोल विभाग गढ़वाल विश्वविद्यालय एवं हिमांशु ग्रोवर चूरु राजस्थान के साथ ही एमडी यूनिवर्सिटी रोहतक से प्रोफेसर एसके बंसल, मिजोरम विश्वविद्यालय से प्रोफेसर वी पी सती, हे न ब गढ़वाल  वि वि टिहरी परिसर के निदेशक प्रोफेसर ए ए बोड़ाई, पौड़ी परिसर के निदेशक प्रोफेसर आर एस नेगी, पूर्व निदेशक प्रोफेसर केसी पुरोहित,भूगोल  विभाग से  प्रोफेसर अनीता रूडोला कुलसचिव प्रोफेसर एन.एस पंवार, डीन स्कूल ऑफ इंजीनियरिंग प्रोफेसर वाइ पी रेवानी, सहित देश के विभिन्न विश्वविद्यालयों के शिक्षक एवं शोध छात्रों के साथ ही  डॉक्टर जे.एस कठैत,  हरीश ने भी भाग लिया. इसमें तकनीकी सहयोग के रूप में विकास रावत एवं मोहम्मद असलम तथा नेहा चौहान हैं यह कार्यक्रम विभिन्न सत्रों में आयोजित किया जाएगा जिसमें बारह  सौ से अधिक प्रतिभागियों ने पजीकरण किया है जिसमें से एक सौ  का चयन किया गया है. विभिन्न विषय विशेषज्ञ प्रतिदिन इस में भाग लेंगे जो सुबह 10:00 बजे से शाम 5:30 बजे तक चलेगा.सभी  सत्रों के  संचालन में अध्यक्ष  एवं रिपोर्टियर के निर्देशन में सत्र  संचालित  किये जायेंगे

टिप्पणी पोस्ट करें

0 टिप्पणियां