Page Nav

HIDE

Grid

GRID_STYLE

Hover Effects

TRUE
{fbt_classic_header}

Header Ad

Breaking News:

latest

Ads Place

, आज उत्तराखंड फिल्म इंडस्ट्री का एक चमकता सितारा डूब गया ।

8 जुलाई मुंबई,  आज उत्तराखंड फिल्म इंडस्ट्री का एक चमकता सितारा डूब गया ।                                       कल न्यू मुंबई के एक हौ...

8 जुलाई मुंबई,  आज उत्तराखंड फिल्म इंडस्ट्री का एक चमकता सितारा डूब गया । 


                                     कल न्यू मुंबई के एक हौस्पीटल में कैमोथेरिपी हेतु उन्हे भर्ती किया गया था, जहां आज तडके उन्होने अंतिम सांस ली ।                      अभिनेता अशोक मल ने १९८६ में  गढवाली सुपरहिट फिल्म "कौथीग" द्वारा अपने फिल्म कैरिअर की शुरुवात की थी जिसमें उन्होने नायक की भूमिका निभाई थी । १९८६ से २०१७ तक वे उत्तराखंडी फिल्मों में सक्रिय भूमिका निभाते रहे । इस दौरान उन्होने  कौथीग, बंटवारू, बेटी व्वारी, मेरी गंगा होली त मैंम आली जैसी कालजयी फिल्मों  में नायक की भूमिका निभाई । २०१७ में उन्होने अनमोल प्रोडक्शन की  गोपी भिणा  फिल्म का सफल निर्देशन किया जो कि एक सफल फिल्म सावित हुई । बडे पर्दे की फिल्मों के  इतर उम्होने  व्यो  व   तेरी माया   वीडिओ फिल्मो में मुख्य चरित्र अभिनेता की भूमिका निभाई ।  इस दौरान उन्होने  हरिदर्शन और पिठैं की लाज  इन दो व्हीडिओ फिलमों का निर्माण व निर्देशन किया ।  उन्होने उत्तराखंडी फिल्मों के साथ साथ उत्तराखंडी सांस्कृती के के उन्नयन हेतु रंगमंचो पर भी भूमिकाएं निभाई ।  उन्होने एल्बम की दुनियां में प्रसिद्ध गायक सुरेश काला के गायन में "छौ छक छम" नामक एल्बम को प्रोड्यूज किया ।   मुंबई के उत्तराखंड राज्य की उत्तराखंड भवन भूमि में प्रथम बार  २००९ मे  "कौथिग" के आयोजन का श्रेय भी अशोकमल जी को जाता है जोकि उत्तरांचल पिपल अर्गानाईजेशन के तत्वावधान में संपन्न किया गया ।  जीवनपर्यंत उत्तराखंड की संस्कृतिक विरासतों और लोकपंरंपराओं को जीवंत करने वाले इस इस महान कलावंत को नमन                          वरिष्ठ पत्रकार - राकेश पुंडीर, मुंबई

No comments

Ads Place