6 महिने से शोपीस बना थराली का डाकघर

 -

-शोपीस बना थराली का डाकघर

( मोहन गिरी थराली)




-चमोली-चमोली जिले के प्रमुख उपडाकघरों में से एक थराली डाकघर में पिछले 6 महीनों से कामकाज ठप पड़ा हुआ है आलम ये है कि केंद्र सरकार का डिजिटल इंडिया और मेक इन इंडिया  का नारा थराली आते आते पूरी तरह से मुंह चिढ़ाने सा लगता है 

ऐसे में कामकाज ठप होने के चलते यहां आने वाले ग्राहकों को मायूस ही घर लौटना पड़ रहा है लंबे समय से पोस्ट सेवाएं बदहाल होने के चलते आम जनता में भी रोष व्याप्त है ।



दरसल इसी वर्ष फरवरी माह में डाकघर में लगा  मॉडेम जल गया था जिसकी सूचना डाकघर के पोस्टमास्टर द्वारा आला अधिकारियों को दी गई लेकिन अब 6 माह बाद भी खराब और फुके मॉडेम को रिप्लेस कर नया मॉडेम थराली डाकघर को उपलब्ध न हो सका जिसके चलते डाकघर के ग्राहक ही नही यहां के कर्मियों को भी फजीहत उठानी पड़ रही है जहां आम ग्राहकों के बैंकिंग कार्य नही हो पा रहे हैं वही पोस्ट ऑफिस के कर्मियों को डाक लगाने या भेजने के लिए दूसरे पोस्ट ऑफिस का चक्कर लगाना पड़ रहा है ताकि पोस्ट ऑफिस के डाक सम्बन्धी कार्य प्रभावित न हो सकें ,सरकार डिजिटल इंडिया के तहत अब पोस्ट ऑफिस में भी सहूलियत के लिहाज से  डाक ओर बैंकिंग सेवाओ को ऑनलाइन करा चुकी है लेकिन 6 माह से डाक विभाग थराली डाकघर में एक मॉडेम उपलब्ध न करा सका इससे तो यही लगता है कि सरकार की ये ऑनलाईन प्रणाली और डिजिटल इंडिया अब आम जनता के साथ साथ डाकघर में तैनात कर्मचारियों के लिए भी गले की फांस बन चुकी है 

वहीं स्थानीय संदीप रावत,प्रेम बुटोला,जयवीर रावत,कृपाल रावत समाजसेवी रमेश चन्द्र थपलियाल ने जल्द से जल्द पोस्ट ऑफिस में व्यवस्थायें दुरस्त करवाने की मांग की है विधायक प्रतिनिधि भगत नेगी ने कहा कि लंबे समय से पोस्ट ऑफिस में विभाग एक मॉडेम को रिप्लेस नही करा पाया ये सोचनीय विषय है विभाग की इस लापरवाही का खामियाजा थराली की आम जनता को भुगतना पड़ रहा है जो दूर दराज इलाको से पोस्ट ऑफिस तो आते हैं लेकिन फिर कनेक्टिविटी न होने के चलते  निराश ही घरों को लौट जाते हैं विधायक प्रतिनिधि ने कहा कि इस संदर्भ में वे उपजिलाधिकारी के माध्यम से मुख्यमंत्री को पत्र भेजेंगे ताकि जल्द से जल्द समस्या का निपटारा हो सके


टिप्पणी पोस्ट करें

0 टिप्पणियां