हाथ साफ तो टेंशन नही, कोरोना से जीत का मंत्र भी यही

 कोरोना सहित तमाम संक्रामक रोगों से बचाव के लिए हाथों का स्वच्छ रहना बेहद आवश्यक- डॉ राजे सिंह नेगी

ऋषिकेश- विभिन्न सामाजिक संगठनों से जुड़े समाजसेवी डॉ राजे सिंह नेगी का कहना है कि विभिन्न संक्रामक बीमारियों से बचने के लिए हाथों का स्वच्छ रहना बेहद आवश्यक है  वैश्विक महामारी कोरोना से बचाव के लिए डब्ल्यूएचओ द्वारा जारी की गई गाइडलाइन मेंं भी स्वच्छ हाथों से बचाव को लेकर महत्वपूर्ण जानकारी दी गई है।



वृहस्पतिवार को अंतर्राष्ट्रीय हाथ धुलाई दिवस के मौके पर  डॉ नेगी ने बताया कि हाथों की धुलाई के प्रति जागरूकता पैदा करने के मकसद से  15 अक्टूबर को विश्व हाथ धुलाई दिवस मनाया जाता है। बीमारियों की मुख्य जड़ हाथों की सफाई का ना होना होता है जिसके लिए खासतौर पर भोजन से पहले और शौच के बाद अच्छे से हाथ धोना बेहद जरुरी है।डॉ नेगी के अनुसार कोरोनाकाल के साथ साथ अक्टूबर माह से मौसमी बीमारियों का सीजन भी चल रहा हैं। ऐसे में वैश्विक महामारी के साथ अन्य संक्रामक रोगों से निपटने के लिए चुनौतियां भी दुगनी है। इन तमाम चुनौतियों से हाथों की स्वच्छता के जरिए निपटा जा सकता है। काेविड-19 महामारी संक्रमण के विभिन्न उपायाें में यही सबसे प्रभावी तथा सरल है। साबुन से हाथ धुलाई व सैनिटाइजर से हाथाें काे स्वच्छ रख सकते हैं। ऐसा करने पर कोरोना से बचाव के साथ-साथ अन्य संक्रामक बीमारियों के खतरे को भी टाला जा सकता है।

टिप्पणी पोस्ट करें

0 टिप्पणियां