Page Nav

HIDE

Grid

GRID_STYLE

Hover Effects

TRUE

a1

{Entertainment}{slider-1}
{fbt_classic_header}

Header Ad

Breaking News:

latest

Ads Place

पौड़ी विधानसभा से होकर निकलेगी अब ट्रेन,तैयारी पूरी

 पौड़ी विधानसभा से होकर निकलेगी अब ट्रेन,तैयारी पूरी (कुलदीप सिंह बिष्ट पौड़ी) पौड़ी-पौड़ी विधानसभा को विश्व पटल पर एक नई पहचान देने की कवाय...

 पौड़ी विधानसभा से होकर निकलेगी अब ट्रेन,तैयारी पूरी

(कुलदीप सिंह बिष्ट पौड़ी)




पौड़ी-पौड़ी विधानसभा को विश्व पटल पर एक नई पहचान देने की कवायद तेज होने लगी है, इसी क्रम में ऋषिकेश- कर्णप्रयाग रेल परियोजना  को पौड़ी विधानसभा लाने की तैयारी भी पूरी कर ली गई है। पौड़ी विधायक मुकेश कोली ने बताया कि ऋषिकेश-कर्णप्रयाग रेल परियोजना के तहत पहले ऋषिकेश से कर्णप्रयाग तक 12 स्टेशन प्रस्तावित किए गए थे, मगर अब पौड़ी विधानसभा के अंतर्गत आने वाले जनासू में भी एक नया स्टेशन बनाने जाने का फैसला लिया गया है।  जिसे पौड़ी विधानसभा को एक अलग ही पहचान मिलने जा रही है। जिसके तहत देवप्रयाग से जनासू के बीच लगभग साढे 14 किलोमीटर लंबी टनल (सुरंग) का निर्माण किया जाना है,इससे पहले ऋषिकेश से कर्णप्रयाग तक कुल 12 स्टेशन बनाये जाने थे मगर अब इस परियोजना में पौड़ी विधानसभा के अंतर्गत आने वाले जनासू को शामिल कर दिया गया है। जिससे अब कुल स्टेशनों की संख्या बड़कर 13 हो गए है। ऋषिकेश-कर्णप्रयाग रेल परियोजना के अंतर्गत अब वीरभद्र,  योगी नगर (ऋषिकेश),शिवपुरी, व्यासी,देवप्रयाग,जनासू, मलेथा, श्रीनगर (चौराहा),धारी देवी,रुद्रप्रयाग, घोल तीर, गोचर,कर्णप्रयाग स्टेशन होंगे। पौड़ी विधायक मुकेश कोली ने बताया कि वे पिछले लंबे समय से अपनी विधानसभा को इस रेल परियोजना से जोड़ने में लगे थे। जिसके परिणाम स्वरूप अब पौड़ी विधानसभा के कोट ब्लॉक के अंतर्गत आने वाले जनासू को इस परियोजना का हिस्सा बना दिया गया है उन्होंने बताया कि रेल परियोजना के अंतर्गत आने के बाद पौड़ी का चौमुखी विकास निश्चित है। इससे एक ओर पर्यटकों की आवाजाही आसान हो सकेगी। इसके साथ ही पहाड़ी काश्तकार को भी अपनी फसल और अनाज सहित फलों को बेचने के लिए लंबी दूरी तय नहीं करनी पड़ेगी। विधायक मुकेश कोली ने बताया कि जनासू में बनने वाला नया स्टेशन अंडर ग्राउंड बनने जा रहा है जो बाहर से आने वाले पर्यटकों के लिए भी  एक आकर्षण का विषय रहेगा। उन्होंने मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत का भी आभार प्रकट किया है जिन्होंने उनके द्वारा की जा रही ऋषिकेश कर्णप्रयाग रेल परियोजना को पौड़ी विधानसभा में शामिल करने की स्वीकृति प्रदान की। आपको बताते चलें कि इन दिनों ऋषिकेश-कर्णप्रयाग रेल परियोजना का काम तेजी से किया जा रहा है। रेल विकास निगम ने योजना को कुल 10 पैकेज में बांटा है। इसके तहत पैकेज-1 का काम पूरा कर लिया गया है। इसके साथ ही ऋषिकेश से वीरभद्र के बीच ट्रेन का सफर ट्राई भी किया जा चुका है।

No comments

Ads Place