सनसनी-महिला अधिवक्ता ने दरोगा पर लगाया योन शोषण का आरोप-देखें पूरी खबर

 सनसनी-महिला अधिवक्ता ने दरोगा पर लगाया योन शोषण का आरोप

कुलदीप सिंह बिष्ट पौड़ी



एंकर-जनपद की एक महिला अधिवक्ता ने पौड़ी पुलिस के एक दारोगा पर योन शोषण व पैंसों की ठगी का आरोप लगाया है। अधिवक्ता का कहना है कि उक्त दारोगा ने शादी का झांसा देकर चार साल तक शारीरिक संबंध बनाए। अधिवक्ता का आरोप है कि पुलिस ने मामले की जांच के नाम पर दारोगा का ही पक्ष लिया है। अब महिला अधिवक्ता ने महिला आयोग का दरवाजा खटखटाया है। महिला अधिवक्ता तलाकशुदा है। जनपद की एक महिला अधिवक्ता ने जनपद के एक दारोगा पर शादी का झांसा देकर चार साल तक शारीरिक संबंध बनाने की शिकायत पुलिस महानिदेशक से की थी। महिला अधिवक्ता के आरोपो की जांच जनपद के अपर पुलिस अधीक्षक प्रदीप राय ने की थी। महिला अधिवक्ता ने कहा कि पुलिस ने जांच के नाम पर दारोगा का बचाव किया है। जबकि सभी आरोपों के संबंध में उसके पास पुख्ता सबूत हैं। महिला अधिवक्ता ने बताया कि उक्त दारोगा से उसकी जान पहचान सोशल मीडिया के माध्यम से हुई थी। दारोगा उससे मिलने भी आया था, इस दौरान दरोगा ने कहा कि वह जानता है कि तुम तलाकशुदा हो, फिर भी मैं तुम से शादी करना चाहता हूं। लेकिन चार वर्षो तक शादी का झांसा देकर दारोगा शारीरिक संबंध बनाता रहा और अब शादी से मुकर गया है। महिला अधिवक्ता ने बताया कि दरोगा ने सगाई करने के बाद भी उसे झांसे में रखा। पुलिस अधिकारियों को इस संबंध में सभी सबूत भी दिए गए। बावजूद इसके पुलिस ने पूरी जांच रिपोर्ट दारोगा के पक्ष में दी है। महिला अधिवक्ता ने बताया कि मामले की शिकायत महिला आयोग से कर दी गई है। एसएसपी पौड़ी पी. रेणुका देवी ने बताया कि अपर पुलिस अधीक्षक द्वारा दो बार इस मामले में जांच की चुकी है। शादी के संबंध में कोई वायदा किया जाना साबित नहीं हुआ है। इस संबंध में आवेदिका भी कोई सबूत पेश नहीं कर पाई। दोनों के बीच दोस्ती थी और बातचीत होती थी।


टिप्पणी पोस्ट करें

0 टिप्पणियां