इस बाघ को आदमखोर घोषित करो वन विभाग-दहशत में क्षेत्र के लोग

 गुलदार का आतंक,आदमखोर घोषित करने की मांग

(कुलदीप सिंह बिष्ट पौड़ी)



पौड़ी-जनपद पौड़ी के विकासखंड खिर्सू में बाघ का आतंक लगातार बढ़ता जा रहा है,आपको बता दे कि कुछ दिन पूर्व बाघ ने विकासखंड खिर्सू के ओखल्यु गाँव में एक नवयुवक को अपना निवाला बना दिया था। दो सप्ताह से अधिक समय बीत जाने के बाद भी अब तक जिला प्रशासन उस बाघ को पिंजरे में कैद नहीं कर पाया है। जिसका आक्रोश अब धीरे-धीरे बाहर निकलने लगा है, इसी घटना के मद्देनजर आज ओखल्यु ग्रामसभा सहित उसके आसपास की 5 ग्राम पंचायतों ने जिला मुख्यालय में जिला अधिकारी के कार्यालय का घेराव किया। ये ग्रामीण मांग कर रहे हैं कि जिला प्रशासन ने इस बाघ को आदमखोर घोषित कर इसको मारने के लिए गांव में शिकारी तैनात करें। मगर लंबा समय बीत जाने के बाद भी अब तक इस बाघ को प्रशासन द्वारा नरभक्षी घोषित नहीं किया गया है। इसी के विरोध में आज ग्राम वासियों ने जिला मुख्यालय स्थित जिला अधिकारी कार्यालय का घेराव किया 

। ग्रामीण सुमन बताते हैं कि उस घटना को 14 दिन का समय हो चुका है, घटना के बाद भी कई बार आने जाने वाले लोगों में ये बाघ हमला कर चुका है। जिसकी शिकायत उन्होंने जिला प्रशासन से भी की,मगर इसके बावजूद भी जिला प्रशासन ने उस बाघ को अब तक आदमखोर घोषित नहीं किया है। जिसके कारण ग्रामीणों में आक्रोश है, पूर्व जिला पंचायत सदस्य बीरा भंडारी ने जिला प्रशासन को साफ चेतावनी दी है कि अगर जिला प्रशासन इस बाघ को जल्द ही नरभक्षी घोषित कर उसको मारने के आदेश से जल्द नहीं देता है, तो सभी ग्रामीण उग्र आंदोलन करने करने के लिए विवश हो जाएंगे जिसकी पूरी जिम्मेदारी शासन प्रशासन की होगी।

टिप्पणी पोस्ट करें

0 टिप्पणियां