लोंगा की अंजली देवी हत्याकांड की निष्पक्ष जांच के लिए पुलिस महानिदेशक से की जांच की मांग-देखें पूरा मामला

 रामरतन सिह/जख़ोली


लौंगा गाँव की अंजली देबी हत्याकांड की निष्पक्ष

 जाँच कराने की पुलिस महानिदेशक से की गई है माँग.........




जखोली । तहसील जखोली के अन्तर्गत पौंठी सिलगढ निवासी विजय सिंह ने अपने विवाहित पुत्री अंजलि देवी पत्नी गंगा सिंह की मौत की निष्पक्ष जांच कर दोषियों को कठोर सजा देने की मांग की है। पुलिस महानिदेशक देहरादून को दिए ज्ञापन में ग्राम पौठी निवासी विजय सिंह ने लौंगा निवासी अपने पुत्री अंजलि देवी के पति गंगा सिंह पुत्र शीशपाल सिंह के साथ ही जेठ मंदीप सिंह व जेठानी बबली देवी पर उत्पीड़न का आरोप लगाया है। विजय सिंह ने ज्ञापन में कहा है कि 9 साल पहले उनकी बेटी अंजलि की शादी हिन्दू रीति रिवाज के अनुसार लौंगा निवासी गंगा सिंह पुत्र शीशपाल सिंह के साथ सम्पन्न हुई और लाकडाउन के चलते पुत्री के जेठ,जेठानी व पति ने मिलकर लगातार अंजलि का मानसिक उत्पीड़न कर परेशान करने का आरोप लगाया है। कहा कि 30 अगस्त को ससुराल पक्ष से उन्हें बेटी अंजलि के गायब होने की सूचना दी। जिस पर मृतका की मां आशा देवी ने 1 सितंबर को तहसील जखोली में अपने बेटी की गुमशुदगी दर्ज करवाई। कहा कि 5 सितंबर को राजस्व उप निरीक्षक ने उन्हें फोन से बताया कि उनकी पुत्री अंजलि देवी का शव हरिनगर के समीप हिलांऊ नदी के किनारे मिला है। ज्ञापन में विजय सिंह ने दामाद गंगा सिंह,जेठ मंदीप सिंह व जेठानी बबली देवी पर अपने विवाहित पुत्री अंजलि के साथ प्रताड़ना करने व मारपीट कर शव को नदी में फेंकने की आशंका व्यक्त की है। उन्होंने पुलिस महानिदेशक देहरादून से पुत्री की मौत की निष्पक्ष जांच कर दोषियों को कठोर सजा देने की मांग की है।

टिप्पणी पोस्ट करें

0 टिप्पणियां