एनआईटी को घाव दे गया प्रो.सोनी का निधन, डॉ.निशंक ने शोक जताया

 एनआईटी को घाव दे गया प्रो.सोनी का निधन, डॉ.निशंक ने शोक जताया



देहरादून। राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी संस्थान सुमाडी़ को यह कोरोना गहरा घाव थे गया। एनआईटी के निदेशक प्रो. श्याम लाल सोनी का असामयिक निधन हो गया। इस परिसर को लेकर उनके मन में अनेक हसरतें थीं। यहां से उन्हें खासा लगाव था।

शुक्रवार करीब 3 बजे अपराह्न को प्रो.सोनी ने ऋषिकेश स्थित एम्स में अंतिम सांस ली। बताया गया कि वे असाध्य रोग से पीड़ित रहे, लेकिन इस पर उन्होंने विजय हासिल कर ली थी। वे लगभग दस दिन से एम्स में भर्ती थे।

07 नवंबर,2017 को प्रो.सोनी ने सुमाडी़ परिसर के निदेशक का कार्यभार संभाला था। वे इस साल अगस्त से श्रीनगर में रहकर कामकाज देख रहे थे, जबकि इससे पहले सेटेलाइट परिसर से काम देखते थे। उनके निधन पर एनआईटी के टीचिंग और नानटीचिंग स्टाफ को गहरा धक्का लगा है। सभी के साथ गहन स्नेह रखने वाले प्रो.सोनी के चले जाने पर परिसर में भारी गम का माहौल है।

केंद्रीय शिक्षा मंत्री डॉ.रमेश पोखरियाल निशंक ने प्रो.सोनी के आकस्मिक निधन पर गहरा दु:ख प्रकट करते हुए श्रद्धांजलि अर्पित की। डॉ.निशंक ने कहा कि हमने अपने उच्च शिक्षा परिवार का एक महत्त्वपूर्ण सदस्य को दिया है। डॉ.निशंक ने कहा कि सुमाडी़ परिसर के विकास को लेकर  प्रो.सोनी गंभीर और प्रतिबद्ध थे। हमने एक कर्तव्यपरायण अधिकारी और विद्वान खो दिया है।

Post a Comment

Previous Post Next Post