राष्ट्रीय शिक्षा नीति को नया आयाम देने की पहल

 राष्ट्रीय शिक्षा नीति को नया आयाम देने की पहल


केंद्रीय शिक्षा मंत्री डाॅ.निशंक ने किया नई नीति केंद्रित पुस्तक का विमोचन




नई दिल्ली। देश की दशा और दिशा बदलने में राष्ट्रीय शिक्षा नीति-2020 महत्त्वपूर्ण भूमिका निभाएगी। इस नीति को नया आयाम और मददगार देने में अहम भूमिका निभाएगी पुस्तक 'भारत की नवीन राष्ट्रीय शिक्षा नीति : 2020 नवयुग का अभिनंदन’ । इसका वर्चुअल विमोचन केंद्रीय शिक्षा मंत्री डॉ. रमेश पोखरियाल निशंक ने  गुरुवार को किया।

केंद्रीय शिक्षा मंत्री ने इस अवसर पर कहा कि यह पुस्तक नई शिक्षा नीति को नया आयाम देने में काफी मददगार साबित होगी। उन्होंने कहा कि नवाचार और नवयुग में शिक्षा की नई सोच को इस पुस्तक में दर्शाया गया है। पुस्तक में निहित सामग्री की प्रशंसा करते हुए उन्होंने कहा कि पुस्तक काफी विस्तृत  और गहन रिसर्च के बाद प्रकाशित की गयी है। 

नई राष्ट्रीय शिक्षा नीति से जुड़ी पीआरएसआई चैप्टर देहरादून की पुस्तक को अहम करार देते हुए डॉ.निशंक ने कहा कि केंद्रीय शिक्षा मंत्रालय बौद्धिक संपदा के अधिकार के लिए भी पहल कर रहा है। ऐसे में यह पुस्तक देशभर के विश्वविद्यालयों, कालेजों, संस्थानों  के लिए एक बेहतरीन डॉक्यूमेंट साबित हो सकती है।

 इस पुस्तक में शिक्षा के क्षेत्र में देश की दशा और दिशा को बेहतरीन तरीके से बताया गया है। इस पुस्तक में देशभर के जाने-माने लेखकों और शिक्षाविदों के विचार संग्रहीत किए गए हैं। इस पुस्तक में कई विश्वविद्यालय के कुलपतियों, शिक्षकों और शिक्षा के क्षेत्र से जुड़े लोगों  के लेखों को शामिल किया गया हैं।

  इस मौके पर पीआरएसआई, देहरादून (उत्तराखंड)के अध्यक्ष अमित पोखरियाल, सचिव अनिल सती, आकाश शर्मा, डा. अजीत पाठक केन्द्रीय अध्यक्ष, निवेदता बैनर्जी आदि उपस्थित थे।

टिप्पणी पोस्ट करें

0 टिप्पणियां