गरीब बच्चों का भविष्य बर्बाद करता महाविद्यालय प्रबंधन

 गरीब बच्चों का भविष्य बर्बाद करता महाविद्यालय प्रबंधन

(पंकज भट्ट, घनसाली)



घनसाली-हमेशा से ही विवादों में रहने वाला बालगंगा महाविद्यालय सेंदुल केमर एक बार फिर से विवादों में घिरा हुआ है इस बार सीधे-सीधे छात्र छात्राओं के भविष्य पर बन आई है मामला यह है कि बीए थर्ड ईयर का रिजल्ट अभी कुछ दिन पहले जारी हुआ है जिसने की सभी छात्र छात्राएं सभी विषयों में तो पास है लेकिन महाविद्यालय स्तर पर होने वाले आंतरिक परीक्षाओं में सभी छात्र छात्राओं को अनुपस्थित दिखाया गया है जिसमें सभी छात्र छात्राओं को अनुत्तीर्ण दिखाया गया है इसका मुख्य कारण यह था कि जिन विषयों में छात्र छात्राओं को अनुत्तीर्ण  दिखाया गया है उन विषयों के अध्यापकों को महा विद्यालय प्रबंधन समिति के द्वारा विगत कई महीनों से वेतन नहीं दिया गया है और इस कारण से उन शिक्षकों के द्वारा आंतरिक परीक्षाएं करवाने के बावजूद भी उसकी जानकारी विश्वविद्यालय को नहीं दी गई जिस कारण विश्वविद्यालय के द्वारा सभी छात्रों को अनुत्तीर्ण दिखाया गया है जिस कारण इन सभी छात्र छात्राओं का भविष्य अधर में लटक गया है पूर्व में भी इन शिक्षकों को वेतन न मिलने के कारण शिक्षकों के द्वारा कार्य बहिष्कार किया गया था उस समय भी महाविद्यालय प्रबंधक बालकृष्ण नौटियाल जी के द्वारा लिखित में दिया गया था कि कुछ समय में सभी शिक्षकों का वेतन समय पर दे दिया जाएगा किंतु वेतन ना मिलने के बाद शिक्षकों के द्वारा छात्र-छात्राओं की आंतरिक परीक्षाओं की जानकारी  विश्वविद्यालय को उपलब्ध नहीं करवाई गई जिससे सारे छात्र छात्राएं फेल हो गए अब शिक्षकों और महाविद्यालय प्रबंधन समिति की इस खींचतान के बीच छात्रों का भविष्य अधर में लटक गया है

Post a Comment

Previous Post Next Post