इंसान की लांश पर लिपटकर आधा घंटा रोता रहा बेजूबांन लंगूर-देखें वीडियो

 इंसान की लांश पर लिपटकर आधा घंटा रोता रहा बेजूबांन लंगूर-देखें निचें  वीडियो



गिरिडीह:  बिहार-जिले की यह तस्वीर आपको सोचने पर मजबूर कर देगी एक बेजुबान की संवेदना हम जुबान वाले लोगों पर कितनी भारी है. ये दोस्ती कैसी थी, कब से थी, कहां से शुरु हुई, कब बढ़ी यह कोई नहीं जानता. लेकिन, यह तस्वीर इतना तो जरूर बोल रही है कि जैसी दोस्ती थी बड़ी ही प्रगाढ़ थी. मतलबी होते इस दौर में ऐसी तस्वीरें वाकई मिसाल ही पेश करती हैं. यह दोस्ती एक इंसान और एक बेजुबान की है.


बेजुबान का अनोखा प्यार.

...और शव से लिपटकर रोने लगा लंगूर


दरअसल, गिरिडीह के बेंगाबाद थाना क्षेत्र तेलोनारी पंचायत में एक मजदूर पेड़ काट रहा था और इसी दौरान एक भारी-भरकम पेड़ उस पर गिर गया. पेड़ गिरने से मजदूर की मौत हो गई. उसके साथ काम कर रहे अन्य साथियों ने पेड़ हटाकर मजदूर को बाहर निकाला लेकिन तब उसने दम तोड़ दिया.

इसी दौरान एक लंगूर पेड़ से उतरकर नीचे आया और शव के पास बैठकर रोने लगा. लंगूर घंटों मजदूर के शव को सहलाता रहा. मानो कोई अपना उसे छोड़कर चला गया हो. लंगूर की आंखों से आंसुओं की धार बह रही थी. जब लोग मजदूर का शव उठाकर एंबुलेंस से ले जाने लगे तब लंगूर भी उसके पीछे-पीछे चल पड़ा. हम देखते रहे. तब तक जब तक एंबुलेंस और लंगूर आंखों से ओझल नहीं हो गया. पता नहीं यह कौन सा रिश्ता था. हम भी यही सोचने पर मजबूर हैं.

बताया जा रहा है कि लातेहार के बेंदी से कुछ मजदूर ठेकेदारी पर पेड़ काटने के लिए बेंगाबाद से परसन आए थे. पिछले 5 दिनों से पेड़ काटने का काम चल रहा था. मृतक के साथियों ने बताया कि उसके दो छोटे-छोटे बच्चे हैं. एएसआई सुनील कुमार सिंह का कहना है कि शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है. परिजनों के आवेदन के आधार पर आगे की कार्रवाई की जाएगी. परिजनों को उचित मुआवजा दिलाने की कोशिश की जाएगी

Post a Comment

Previous Post Next Post