रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह से मिले डॉ हरक सिंह रावत इन मांगों को लेकर की मुलाकात

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह से मिले डॉ हरक सिंह रावत इन मांगों को लेकर की मुलाकात



से श्रीनगर, जो ऑल वेदर रोड़ में सम्मिलित है पर उक्त दो स्थानों पर सुरंग

निर्माण कराये जाने हेतु कृपया सम्बन्धित अधिकारियों को निर्देशित करने का कष्ट


में आपका ध्यान उत्तराखण्ड राज्य के अन्तर्गत राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या-119(कोटद्वार-सतपुली-पौड़ी-श्रीनगर) की ओर आकर्षित करना चाहता हूँ। इस राष्ट्रीय राजमार्ग का उपयोग उत्तर प्रदेश एवं अन्य राज्यों से आने वाले पर्यटकों के द्वारा चार धाम यात्रा हेतु किया जाता है। पूर्व से ही कोटद्वार नगर चार धाम यात्रा के संचालन का मुख्य द्वार रहा है। उक्त मार्ग काफी घुमावदार एवं उतार-चढ़ाव वाला पर्वतीय मार्ग है. जिससे इस राष्ट्रीय राजमार्ग की कुल 137 किमी की दूरी तय करने में वाहनों को लगभग 5-6 घण्टों का समय लगता है। आपके द्वारा इस कोटट्टार-श्रीनगर मोटर मार्ग को ऑल वेदर रोड़ में सम्मिलित किये जाने की स्वीकृति दी गयी है। मेरा सुझाव है कि इस राष्ट्रीय राजमार्ग को जो ऑल वेदर रोड में सम्मिलित किया गया है, पर दुगड्डा से सतपुली तथा ज्वाल्या से खंडहा तक दो सुरंग निर्मित कर दी जाय, जिससे कोटद्वार से श्रीनगर की दूरी 50 किमी० कम हो जायेगी और यात्रियों को कोटद्वार से श्रीनगर पहुँचने में मात्र 3 घण्टे का ही समय लगेगा, जिससे ईधन की बचत होगी और साथ -साथ यात्रा भी सुविधाजनक हो जायेगी।

आपको यह भी अवगत कराना है कि जनपद चमोली चीन की सीमा से लगा हुआ है जहां पर सैनिकों को गढवाल राईफल्स के मुख्यालय लैंसडौन से चीन सीमा पर आवागमन के लिए भी इस मार्ग का चौडीकरण किया जाना अत्यन्त आवश्यक है। इसी को मध्यनजर रखते हुए इस मार्ग को कोटद्वार से श्रीनगर तक चारधाम यात्रा मार्ग के साथ सम्मिलित किया गया था। अतः आपसे विनम्र अनुरोध है कि इस राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या 119 कोटद्वार



करें।

Post a Comment

Previous Post Next Post