त्रिवेंद्र रावत च त मुमकिन च-पहाड़ की नारीयों का खातिर जल्द लागू होली मुख्यमंत्री घस्यारी योजना-देखा पूरी जानकारी

 पहाड़ की नारीयों का खातिर जल्द बणली मुख्यमंत्री घस्यारी योजना

(नीलम कैन्तुरा की कलम सी)

आज द्या  अभी द्या  उत्तराखण्ड राज्य द्या ..कोदा झंगोरु खोला  उत्तराखण्ड राज्य बणोला ये  उदेश्य तैं  लेकी उत्तराखण्ड  राज्य तैं बणांयेगी अर  राज्य निर्माणक तैं  कै  शहीदोंन  अपणा  प्राणों कु बलिदान दिनी। राज्य बणोण कु  असली  मकसद थो  की पहाड़ कू विकास ह्वे सकू  पहाड़ की दीदी- भूलियों का मुंड मा जु घास अर लाखडू कू बोझ  च तैं बोझ सी हमारी दीदी भूलियों तैं छूटकारु मिली सकू पहाड़ मा ही हम तैं रोजगार मिललू अर भलि शिक्षा अर  अच्छू स्वास्थ्य मिली सकू ये अवधारण सी ये राज्य तैं बणायेंगी थो .. अर अपनी दूरदृष्ट्री  अर पहाड़ मा रुंजियां – भूंजियां च पहाड़ की उकाळ अंद्यार देखी च अप पहाड़ मा रैक तैं पहाड़ की खैरी खाईं च अर दीदी भूलियों कु दुख देख्यूं च यूंही कारण च की सीएम रावत पहाड़ तैं गहराई सी समझदन अर तों दीदी भूलियों की पीड़ा भी समझदन जु दीदी- भूलि अपणा डोखरा पुंगडियों मा दिन रात मेहनत करदी अर अपणा डंगरों तैं खास न्यार ल्योँणा का खातिर बाघ रिक कै डैर ह्वें तैं भी अपणा डंगर पैँळ का खातिर निडर ह्वेक तैं चलदिन अर अपणा डंगरों का खातिर घास न्यार ल्योंणा का खातिर बथेरी दीदी भूली बणों मां जांदी अर ऊं दगड़ी क्वीं भी अनहोनी होंदी बथेरा डाळा पड़ी जांदिन अर डंगार पड़ी जांदिन अर रीख बाघ खै देंदू । यनि दीदी भूलियों की पीड़ा तैं दूर करणका खातिर त्रिवेन्द्र सिंह रावत जल्दी मुख्यमंत्री घस्यारी कल्याण योजना लागू करला । या घोषणा सीएम रावतन अपणा हल्द्वानी दौरा का दौरान करी । सीएम रावतन बतै की 10 सालों मा 562 लोगों  न अपणी जान गंवाई। जैंमा ज्यादा संख्या महिलाओं की च । अर यूं घटनाओं तैं देखिक तैं सरकारन  मदद कु फैसला लिनी।ये योजना का अंतगर्त  महिलाओं की सुरक्षा अर ऊंकी परेशानी कम करोंण पर काम होलू। कोऑपरेटिव का चारा गोदामों की मदद सी ऊंतें सस्ता दरों पर चारा गौरु भैंसू तैं घास न्यार क तैं ल्योंण वाली महिलाओं की सुरक्षा अर ऊंकी परेशानी कम करण पर काम होलू। कोऑपरेटिव का चारा गोदामों की मदद सी ऊंतें सस्ती दरों पर चारा दिलाये जालू। पैंकिग वाला चारा पोंछोंणे की व्वस्था भी करिये जाली। पैंकिग वाळू चारा घर मा पोंछाये जालू । जंगली जानवरों सी नुकसान पर तत्तकाल मदद अर मुआवजे की व्यवस्था भी करला। वखी सीएम रावतन बोली की यू महिलाओं तैं सबसे बडू फैसला च की महिलाओं तैं सहखातेदार बणाई।

मैं भी एक नारी होंणा का खातिर मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत जी कु दिल की गहराइयों सी आभार प्रकट करदून की कैंन तो हमारी पीड़ा समझी 

 

   

 


Post a Comment

Previous Post Next Post