पर्वतीय लोक संस्कृति के संरक्षण के लिए संस्कृति प्रेमीस्वामी एस. चन्द्रा की अभिनव पहल

 

विलुप्त प्राय: पर्वतीय लोक संस्कृति के संरक्षण, संवर्धन एवं प्रचार - प्रसार हेतु समर्पृत सामाजिक एवं सांस्कृतिक संस्था "शैल कला एवं ग्रामीण विकास समिति (पंजी. 1988)" के तत्वावधान मैं दिनांक - 19 से 21 मार्च 2021 तक सुप्रसिद्ध  टपकेश्वर महादेव मंदिर के सभागार मे दिल्ली से पधारे पंडित विश्व नाथ जी (शास्त्रीय गायक), बाबा भाष्कर नाथ जी (शहनाई वादक ) तथा उस्ताद अधर हुसैन खाँ (तबला नवाव), के सानिध्य मैं त्रीदिवसीय शास्त्रीय गायन वादन कार्यशाला का आयोजन किया जा रहा है, इस अवसर पर गुरुओं के द्वारा प्रस्तुतियां भी दी जायेंगी. 

          पर्वतीय लोक संस्कृति के संरक्षण के लिए संस्कृति प्रेमीस्वामी  एस. चन्द्रा की अभिनव पहल



  कार्याशाला सयोजक एवं संस्था के संस्थापक अध्यक्ष स्वामी एस. चन्द्रा, कार्यशाला परिकल्पना-शोधार्थी योगेश खेतवाल ने बताया कि यह कार्यशाला का आयोजन भगवान भोलेनाथ जी के चरणों मैं प्रस्तुत किया जा रहा हैं, इस कार्याशाला मैं किसी भी आयु के संगीत मे रूचि रखने वाले महिला एवं पुरूष भाग ले सकते हैं, गुरुओं से संगीत की बारिकियां सीखने का सुन्दर अवसर प्रदान किया जा रहा है, क्योकी कोरोना काल मै काफी कुछ हमारे जीवन से चला गया है, उसकी पूर्ती तौ संभव नही लेकिन हम संगीत से जीवन में कुछ रंग जरूर भर सकते हैं. 

पंजीकरण हेतु संपर्क:-

                स्वामी  एस. चन्द्रा-- 8077554790

                योगेश खेतवाल  --  9369384323

Post a Comment

Previous Post Next Post