पुरानी पेंशन बहाली मोर्चा के पदाधिकारियों ने शौर्य डोभाल को सौंपा ज्ञापन

 पुरानी पेंशन बहाली मोर्चा के पदाधिकारियों ने शौर्य डोभाल को सौंपा ज्ञापन

(मनोज नौडियाल, कोटद्वार)



कोटद्वार। पुरानी पेंशन बहाली मोर्चा के पदाधिकारियों ने पेंशन बहाली की मांग को लेकर इंडिया फाउंडेशन के निदेशक एवं केन्द्र राज्य शासकीय कार्य समन्वयक शौर्य डोभाल को ज्ञापन प्रेषित किया।पेंशन बहाली मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष अनिल बडोनी एवं प्रदेश महासचिव सीताराम पोखरियाल ने शौर्य डोभाल को प्रेषित ज्ञापन में कहा कि वर्ष 2005 के पश्चात नियुक्त राजकीय पदों पर कार्यरत समस्त कर्मचारियों, अधिकारियों, शिक्षकों की पुरानी पेंशन जीपीएफ की योजना को समाप्त कर दिया गया है। तथा भारत सरकार ने नयी पेंशन योजना को लागू कर दिया है। जीपीएफ पेशन योजना के तहत राजकीय सेवक अपनी सेवा में रहते हुए प्रतिवर्ष अपने वेतन से निर्धारित प्रतिशत के अनुसार अपने वेतन का एक अंश स्वंय के जीपीएफ के तहत कटवाते थे, जिस पर सरकार द्वारा निर्धारित ब्याज देने की प्रक्रिया थी। कर्मचारी अपनी सेवाकाल में अपनी जरूरत के मुताबिक जीपीएफ से अपना पैसा निकालकर अपने जीवन की महत्वपूर्ण आवश्कताओं को पूर्ण कर देता था, तथा सेवानिवृत्ति के बाद भी कर्मचारियों को पेंशन मिलती थी, जिससे वह अपने परिवार का भरण पोषण अच्छी प्रकार से कर लेता था, लेकिन अब नई पेंशन योजना के तहत सेवानिवृत्ति पर कर्मचारियों को नाम मात्र की पेंशन मिल रही है, जिससे परिवार का गुजारा होना कठिन है। कहा कि पुरानी पेंशन बहाली मोर्चा ने कई बार महारैली निकाल कर अपना विरोध भी दर्ज करवाया गया। उन्होंने केन्द्र एवं राज्य सरकारों से पुरानी पेंशन बहाल करवाने के लिए सहयोग करने की अपील की है।

Post a Comment

Previous Post Next Post