बुरांस के फूलों से होगा विस्सू पर्व का आगाज-जनिए महासू देवता के बारे में

 बुरांस के फूल से आगाज होगा बिस्सू पर्व का शुभारंभ



जौनसार:सोमवार को जौनसार बावर जनजाति क्षेत्र में फुलयात पर्व से बिस्सू महोत्सव का आगाज शुरू हो गया है! मान्यता है कि 4 महासू चालदा, बोठा महासू, वाशीक, बवासी देवता के मंदिरों में लोग जंगलों से बुरास के फूल को एकत्रित कर मंदिरों में चढ़ाया जाता है। जिससे लोग क्षेत्र की खुशहाली के लिए देवालों में बुरांश का फूल चढ़ाकर पूजा अर्चना करते हैं। लोगों का मानना है कि जिस तरह से बुरास अपनी लालिमा को पूरे वातावरण को सुगंधित करता है ,उसी प्रकार से लोग अपने इष्ट देवताओं से प्रार्थना कर खुशहाली के लिए मन्नत मांगते हैं l तथा साथ ही विस्सू पर्व का आगाज शुरू हो गया है। जौनसार बावर में मंगलवार से तीन दिवसीय विस्सू पर्व की धूम रहेगी।

जौनसार बावर में यूं तो त्योहारों का अपने अंदाज में मनाया जाता है ।उसी प्रकार तीन दिवसीय विस्सु पर्वों को बड़ी धूमधाम के साथ मनाया जाता है। अपने सगे संबंधियों को बुलाकर दावते का सिलसिला जारी रहता है। जिसमें मेहमान नवाजी बड़े अंदाज से  की जाती है।


Post a Comment

Previous Post Next Post