नहीं रही केदार नृत्य की प्रख्यात लोक नृत्यांगना गजुला देवी-देखिए VIDEO में गजुला देवी का नृत्य

नहीं रही केदार नृत्य की प्रख्यात लोक नृत्यांगना गजुला देवी-देखिए VIDEO में गजुला देवी का नृत्य


फोटो - 1956 जवाहरलाल नेहरू के साथ दिल्ली में ।


      टिहरी- केदार नृत्य की प्रख्यात लोक नृत्यांगना गजुला देवी का आज प्रातः टिहरी गढ़वाल के ढुंग, बजियाल गांव (अखोड़ी) में निधन हो गया।



       गजुला देवी उस टीम की अंतिम जीवित नृत्यांगना सदस्य थी, जिसने 1956 और फिर 1960 के दशक में भी दिल्ली में गणतंत्र दिवस परेड के अवसर पर केदार नृत्य की प्रस्तुति दी थी। तब टिहरी गढ़वाल की यह टीम उत्तराखंड के गांधी इंद्रमणि बडोनी के निर्देशन में उत्तर प्रदेश का प्रतिनिधित्व करने गणतंत्र दिवस की परेड में शामिल हुई थी, जिसमें उनके पति भी शामिल थे। गजुला देवी तब मात्र 18 या 19 साल की थी।

        गजुला देवी के पति शिवजनी टिहरी गढ़वाल ही नहीं बल्कि उत्तराखंड के श्रेष्ठ और पारंगत ढोल वादक और लोक गायक हैं। पति पत्नी कई दशकों से गांव की छानियों में जीवन यापन करते रहे। पीछे पुत्र, पुत्रियां नाती, पोतों से भरा पूरा परिवार, गांव और अन्य जगहों पर अपनी रोजी-रोटी के संघर्ष में लगे रहे। 

       पिछले साल नई टिहरी में केदार नृत्य कार्यशाला शुरू की थी, जिसमें पति पत्नी दोनों नई टिहरी आते रहे लेकिन कोरोना के चलते कार्यशाला रोकनी पड़ी थी। तब वह पूरी तरह से स्वस्थ थी। तीन चार दिन से उनका स्वास्थ्य कुछ खराब हुआ और फ़िर आज रात अनन्त यात्रा पर चल दी 

      

      

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget