एडवोकेट ललित जोशी की नायब पहल कोरोना में 100अनाथ बच्चों को निशुल्क देंगे शिक्षा

 एडवोकेट ललित जोशी की नायब पहल कोरोना में 100अनाथ बच्चों को निशुल्क देंगे शिक्षा 

(रैबार पहाड़ स्पेशल डेस्क)



 देहरादून-कोरोना  महामारी के दौर में हजारों बच्चों के सर से माता पिता का साया उठ गया है। देश के साथ प्रदेश में भी ऐसे कई बच्चे हैं जिनके माता पिता और रिश्तेदारों की मौत हुई है। ऐसे में उनके सामने आजीविका से लेकर शिक्षा जारी रखने का गंभीर संकट पैदा हो गया है। खासतौर से उच्च शिक्षा की मोटी फीस जुटाना इन बच्चों के लिए मुनासिब नहीं हो रहा है। ऐसे ही बच्चों की मदद के लिए देहरादून स्थित सीएआइएमएस और यूआइएचएमटी ग्रुप ऑफ कॉलेज ने पहल की है। इस ग्रुप ने कोरोना त्रासदी में अनाथ हो चुके बच्चों को निश्शुल्क उच्च शिक्षा देने की घोषणा की है। बागेश्वर जिले के काफलीगैर तहसील निवासी और एडवोकेट ललित मोहन जोशी देहरादून में स्थित सीआईएमएस और यूआइएचएमटी ग्रुप के चेयरमैन हैं। उन्होंने बताया कि कोरोना त्रासदी से लड़ने के लिए एक नागरिक के तौर पर उन्हें अपनी सामाजिक जिम्मेदारियों का एहसास है। इसलिए कोरोना के कारण अनाथ हुए बच्चों को वह अपने कॉलेज में विभिन्न कोर्सेस में निश्शुल्क प्रवेश के साथ-साथ उनकी पूरी पढ़ाई का खर्चा उठाएंगे। संस्थान ऐसे 100 अनाथ बच्चों को निश्शुल्क उच्च शिक्षा प्रदान करेगा, जो कोरोना के कारण अनाथ हुए हैं। एडवोकेट जोशी ने बताया कि उनका समूह पहले भी ऐसा करता आ रहा है। संस्थान में गत 8 वर्षों से प्रतिवर्ष 30 से अधिक गरीब व अनाथ बच्चों को निश्शुल्क उच्च शिक्षा प्रदान की जा रही है। सीआईएमएस विगत 20 वर्षों से प्रदेश मेडिकल और पैरा मेडिकल के क्षेत्र में उच्च शिक्षा प्रदान कर रहा है, जबकि यूआइएचएमटी होलट मैनेजमेंट के क्षेत्र में लगभग 8 साल उच्च शिक्षा प्रदान कराता है।  किफायती और गुणवत्तापरख शिक्षा उपलब्ध करवाकर उन्हें रोजगार के अवसर भी देता है।



Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget