Breaking News

Monday, June 21, 2021

सरकार के लाख दावों के बाद भी ये स्थिति है पहाड़ों में सड़क और स्वास्थ्य सुविधाओं की-देखिए वीडियो में


: सरकार के लाख दावों के बावजूद भी आखिरकार ग्रामीण क्षेत्रों को क्यों नहीं मिल पा रही है  स्वास्थ्य सड़क और शिक्षा जैसी सुविधाएं।

पौड़ी से कुलदीप बिष्ट की रिपोर्ट


पौड़ी-सरकार लाख दावे क्यों ना कर ले कि वह ग्रामीण क्षेत्रों की स्वास्थ्य सड़क और शिक्षा जैसे मुद्दों को सबसे पहले प्राथमिकता देती है इसके कई उदाहरण ग्रामीण क्षेत्रों में आए दिन सोशल मीडिया के माध्यम से आप लोगों के सामने आते रहते हैं ताजा मामला  कोट, ब्लॉक के ग्राम ली धारी पोखरी का है जहां एक व्यक्ति की अचानक तबियत  खराब होने के चलते बीमार व्यक्ति को लकड़ी के पिनाश में बिठाकर उसे जिला अस्पताल पहुचाया।

देखिए वीडियो




गांव वालों ने कहा कि अगर गांव तक सड़क होती तो उन्हे इतनी मुश्किलों से दो-चार नहीं होना पड़ता। लेकिन रोड़ ना होने के कारण और जो रास्ता है वो भी ठीक ना होने के कारण उन्हें काफी मुश्किलों का सामना उठाना पड़ता है आए दिन गांव में बुजुर्ग लोगों की तबीयत खराब होने के चलते उन्हें इसी तरह उन्हें जिला अस्पताल लाना पड़ता है जिससे ग्रामीणों को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ता है। उन्होंने कहा कि  दुर्भाग्य तो इन गांव वालों के लिए है जो अपना बहुमूल्य वोट ये समझ कर जनप्रतिनिधियों को देते हैं कि वह उनकी समस्याओं को सुधरेंगे और उनके गांव तक सड़क ला सकेंगे लेकिन यह सपने केवल वोट देने तक ही ग्रामीणों को दिखाई जाते हैं उसके बाद ग्रामीणों के हालात जस के तस बने रहते हैं जिसका उदाहरण सभी के सामने दिखाई दे रहा है वही ग्रामीणों ने बताया कि नेता जीतने के बाद गांव के उन रास्तों में दोबारा कदम तक नहीं रखते हैं जहां वह वोट मांगने के लिए पहुंचते हैं। उन्होंने कहा कि इस तरह के नेता और जनप्रतिनिधियों को शर्म से डूब मर जाना चाहिए जो हर बार झूठे आश्वासन लेकर गांव के भूले लोगों में वोट मांगने के लिए पहुंच जाते हैं और फिर उन्हें उनकी स्थिति में छोड़ जाते हैं ग्रामीणों का कहना है कि इसके चलते कई लोग  समय पर इलाज ना मिलने के कारण ये उनकी मौत हो चुकी है।