कोविड के चलते सूखे पड़े ब्लड बैंकों में पूर्व सीएम त्रिवेन्द्र की मुहिम से फिर मिलनें लगा ब्लड

 *-पूर्व सीएम त्रिवेन्द्र की मिशन रक्तदान मुहिम में अबतक के 08 शिविरों में लगभग 550 से अधिक रक्त यूनिट का संग्रह।*


*-औसतन हर रक्तदान शिविर में 68 रक्त यूनिटों का हो रहा संग्रह:*


  • *-रक्तदान शिविरों के चलते रोजाना ब्लड बैंकों में हो रहा व्यपाक रक्त यूनिट का संग्रह जिसके चलते ब्लड बैंकों को मिल रही मजबूती: त्रिवेन्द्र*

  • *- आज के रक्तदान शिविर में लगभग 85 यूनिट रक्त किया गया संग्रह।*

  • *-युवाओं ने हमारे मिशन रक्तदान आह्वान को लिया गंभीरता से और परिणाम हम सबके सामने है: त्रिवेन्द्र*



देहरादून: कुछ दिनों पहले जहां एक प्रमुख समाचार पत्र ने 22 मई 2021 में यह दर्शाया था कि देहरादून में ब्लड बैंक को 20 यूनिट हरिद्वार से भिजवाया जाएगा जोकि की बेहद गंभीर विषय था हालांकि पूर्व सीएम त्रिवेन्द्र की मिशन रक्तदान मुहिम की शुरुआत 14 मई 2021 से हुई थी। अब हम स्वयं आंकलन कर लें कि संकट के इस दौर में जब देहरादून जैसे प्रमुख शहर में रक्त की कमी हो सकती है तो भविष्य में चिंताजनक स्थिति हो सकती थी लेकिन ऐसे समय में पूर्व मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र की मिशन रक्तदान ब्लड बैंकों के लिए बनी संजीवनी। अकेले उनकी मिशन रक्तदान के अंतर्गत अबतक लगभग 550 रक्त यूनिट ब्लड बैंकों को दी जा चुकी हैं। आपको बता दें कि पूर्व सीएम द्वारा रक्तदान शिविरों के शुरुआत के बाद उनकी खुद की भारतीय जनता पार्टी के साथ-साथ कई अन्य सामाजिक संगठन इससे प्रेरित होकर आगे आए हैं और अब सभी के सहयोग के चलते रोजाना कई सौ रक्त यूनिट ब्लड बैंकों को दी जा रही हैं।



आज रामलीला मैदान आईटी पार्क डांडा लखौण्ड सहस्त्रधारा रोड, देहरादून में पूर्व मुख्यमंत्री श्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत की मिशन रक्तदान मुहिम से प्रेरित देवभूमि विकास संस्थान द्वारा रक्तदान शिविर का आयोजन किया गया। जिसमें मुख्य अतिथि के रूप में पूर्व सीएम श्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत मौजूद रहे तथा उन्होंने शिविर में सभी का उत्साहवर्धन किया। रक्तदान शिविर में लगभग 85 यूनिट रक्त संग्रह किया गया। शिविर में बड़ी संख्या में युवाओं ने प्रतिभाग किया। शिविर में युवाओं का उत्साह देखते ही बन रहा था। इसको देखते हुए साफ लग रहा है कि संकट के इस दौर में जरूरतमंदों के साथ आज समाज खड़ा है। 


पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा रक्तदान शिविरों में रक्तदाताओं का उत्साह देखकर साफ लग रहा है कि युवाओं ने हमारे आह्वान को बेहद ही गंभीरता से लेते हुए इस पुनीत कार्य के लिए आगे आ रहे हैं। उन्होंने कहा कि हमारा उद्देश्य इस संकटकाल में ब्लड बैंकों में रक्त की कमी को पूरी तरह से दूर करना है। उन्होंने कहा कि यह हमारा सौभाग्य है कि इस संकटकाल में हम जरूरतमंदों की मदद कर पा रहे हैं। पूर्व मुख्यमंत्री जी ने कहा कि कोरोना के इस संकटकाल में हम साथ हैं और किसी भी हाल में रक्त की कमी नहीं होने देंगे। 


कोरोना से बचाव के सभी मानकों का पालन करते हुए रक्तदाता बिना भय के रक्तदान के लिए आगे आ रहे हैं।

मिशन रक्तदान की मुहिम को लेकर साफ देखने को मिला कि स्वस्थ एवं युवा साथी खासे उत्साहित हैं,  आज के शिविर में लगभग 85 यूनिट ब्लड जुटाने के साथ ही कुछ ब्लड डोनर को सुरक्षित कोटे में रखा गया है। जरूरत पड़ने पर ही उनको रक्तदान करने के लिए आगामी शिविरों में रक्तदान के लिए बुलाया जायेगा। आज के रक्तदान शिविर में लगभग 100 से अधिक रक्तदाताओं ने पंजीकरण कराया। रह गए कुछ युवा शारीरिक जांच में कमजोरी के कारण रक्तदान नहीं कर पाए। पूर्व सीएम ने रक्तदान शिविर को सफल बनाने में योगदान देने वाली ब्लड बैंक की टीम और रक्तदाताओं का आभार प्रकट किया।


इस अवसर पर महापौर देहरादून श्री सुनील उनियाल गामा, जिला अध्यक्ष श्री शमशेर पुंडीर ,महानगर महामंत्री सतेंद्र नेगी , इतवार सिंह रमोला, रंजीत भंडारी ,

मंडल अध्यक्ष मनीष बिष्ट, सुभाष यादव, शाकुल उनियाल , दिनेश केमवाल, पार्षद अनूप नौडियाल,भूपेंद्र धौंडियाल, सुशीला रावत, पूर्व राज्यमंत्री दर्जाधारी जितेंद्र रावत मोनी व राजकुमार पुरोहित, मंडी समिति देहरादून के अध्यक्ष राजेश शर्मा ,कलम  सिंह रावत,अनुज कौशल, सुरेंद्र नेगी, अवनीश कोठारी के अलावा काफी संख्या में युवा व महिलाएं भी उपस्थित  रहे।

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget