Breaking News

Saturday, June 26, 2021

डेढ़ करोड़ का पुस्ता धराशायी, लीपापोती के जुगत में जुटा विभाग

 डेढ़ करोड़ का पुस्ता धराशायी, लीपापोती के जुगत में जुटा विभाग

मनोज नौडियाल, कोटद्वार



कोटद्वार। राष्ट्रीय राजमार्ग 534 पर कोटद्वार दुगड्डा के बीच आमसौड़ के समीप वर्ष 2020 में लगभग डेढ़ करोड़ रुपए की लागत से बना पुस्ता एक साल में धराशायी हो गया। पुस्ते के टूटने से राष्ट्रीय राजमार्ग पर दौड़ने वाले वाहनों पर भी अब बरसात के मौसम में खतरा मंडराने लगा।

बरसात के मौसम में सड़क कभी भी धसकर खोह नदी में समा सकती है, लेकिन जिम्मेदार विभाग पुस्ते के ऊपर काली पॉलीथिन डालकर लीपापोती करने के जुगत में जुटा हुआ है।वर्ष 2019 में भारी बारिश के कारण कोटद्वार दुगड्डा के बीच किलोमीटर 9 के  समीप सड़क का  कुछ हिस्सा टूटकर खोह नदी में समा गया था, जिस कारण राष्ट्रीय राजमार्ग इस जगह पर संकरा हो गया था, राष्ट्रीय राजमार्ग के अधिकारियों के द्वारा वर्ष 2020 में इस जगह पर लगभग डेढ़ करोड़ की लागत से पुस्ते का निर्माण किया गया, जिससे कि सड़क चौड़ी हो सके। लेकिन ठेकेदार और विभाग की मिलीभगत के कारण यह पुस्ता एक वर्ष में धराशायी हो गया, हालत यह है कि अपनी कमी छुपाने के लिए राष्ट्रीय राजमार्ग के अधिकारियों के द्वारा टूटे पुस्ते के ऊपर  काले रंग की पॉलीथिन डाल दी गई है।

राष्ट्रीय राजमार्ग 534 के अवर अभियंता अरविंद जोशी में अपना पल्ला झाड़ते हुये कहा कि बीते वर्ष में जिस पुस्ते का निर्माण लगभग डेढ़ करोड़ की लागत से हुआ था वह सुरक्षित है, जो पुस्ता बारिश के कारण टूटा है वह पुराना है।