Breaking News

Sunday, June 13, 2021

IIT रूड़की ने तैयार किया अनोखा हेलमेट -जानिए इसकी विशेषता और कीमत

 रुड़की IIT ने तैयार किया अनोखा हेलमेट



रूड़की-- देश की नामचीन संस्थान आईआईटी रुड़की के औधोगिक इंजीनियरिंग विभाग के प्रोफेसर ने एक अनोखा हेलमेट डिजाइन किया है जो विस्फोट प्रतिरोधक छमता को झेलने में कारगर साबित होगा। ये हेलमेट आतंकवाद से जूझ रहे क्षेत्रों में तैनात जवानों के लिए खासतौर पर तैयार किया गया है। सुरक्षा जवानों पर मौजूद हेलमेट की तुलना में ये हेलमेट ज्यादा बेहतर सुरक्षा दे सकेगा। प्रोफेसर शैलेश गणपुले ने बताया पारंपरिक हेलमेट आमतौर पर गोली से सुरक्षा के लिए डिजाइन किए जाते हैं। उन्होंने बताया कि आइईडी (इम्प्रोवाइज्ड एक्सप्लोसिव डिवाइस) धमाकों से ये हेलमेट सिर की सुरक्षा नहीं कर पाते। वजह यह है कि इनमें सिर और हेलमेट की ऊपरी परत के बीच खाली जगह रहती है। धमाके से उठने वाली तरंगों के कारण सिर को इन तरंगों से नुकसान पहुंच सकता है। लेकिन आईआईटी द्वारा तैयार किया गजब ये हैलमेट पूरी तरह से सुरक्षित है। 

आपको बता दे  रुड़की स्थित भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान (आइआइटी) रुड़की द्वारा वक़्त और हालात के मद्देनजर एक हेलमेट तैयार किया गया है। ये हेलमेट आईआईटी के प्रोफेसर शैलेश गणपुले ने तैयार किया है। विस्फोट प्रतिरोधी यह हेलमेट जवानों को पारंपरिक हेलमेट की तुलना में ज्यादा बेहतर सुरक्षा दे सकेगा। आइआइटी रुड़की के यांत्रिक और औद्योगिक इंजीनियरिंग विभाग के प्रोफेसर शैलेश गणपुले ने बताया कि यह पारंपरिक हेलमेट का ही उन्नत संस्करण है। उन्होंने बताया कि पारंपरिक हेलमेट आमतौर पर गोली से सुरक्षा के लिए डिजाइन किए जाते हैं। जो विस्फोटक धमाकों से सिर की सुरक्षा नहीं कर पाते इसलिए तमाम चीजों को ध्यान में रखते हुए इस हेलमेट को तैयार किया गया है। उन्होंने बताया इस हेलमेट को तैयार करने में करीब तीन साल का वक़्त लगा है और इसकी कीमत 5 सौ से एक हजार तक रखी गई है। प्रो.गणपुले ने बताया कि हेलमेट की ऊपरी परत पर एक खास तरह का पैड लगाया है। यह पैड विस्फोट से उठने वाली तरंगों के लिए शाकर का काम करता है। इसके अलावा चेहरे की सुरक्षा के लिए इस हेलमेट पर एक विशेष फेस शील्ड भी लगाई गई है। इसे ग्रेन्युलर (दानेदार) मैटीरियल से तैयार किया गया है। विस्फोट की तरंगों से इस फेस शील्ड को बेहद कम क्षति पहुंचती है और इससे चेहरा भी सुरक्षित रहता है। उन्होंने बताया आतंवाद से जूझ रहे क्षेत्रो में तैनात सुरक्षाकर्मियों के लिए ये हेलमेट काफी फायदेमंद साबित होगा।