Breaking News

Wednesday, July 21, 2021

उत्तराखंड बेरोजगार संघ ने सीएम की अनुपस्थिति में उनके जनसंपर्क अधिकारी मुलायम सिंह रावत को सौंपा 11 सूत्री ज्ञापन

 उत्तराखंड बेरोजगार संघ ने  सीएम की अनुपस्थिति में उनके जनसंपर्क अधिकारी मुलायम सिंह रावत को सौंपा 11 सूत्री ज्ञापन

बेरोजगार संघ ने जनसंपर्क अधिकारी को सौंपा ज्ञापन



*आज  उत्तराखंड बेरोजगार संघ के प्रतिनिधिमंडल ने मुख्यमंत्री आवास पर जाकर तमाम मांगों को लेकर  मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी  को ज्ञापन प्रेषित किया वहीं  सीएम की  अनुपस्थिति में उनके पीआरओ  मुलायम सिंह रावत  को मांगों से अवगत करवाया जो कि निम्न हैं।*

  • *1- बेरोजगार संघ ने आरोप लगाते हुए कहा कि वर्तमान में जारी हुई विज्ञप्तियों में आयु गणना 1 जुलाई 2020 के आधार पर की जा रही है जिस कारण प्रदेश में हजारों छात्र आवेदन करने से वंचित रह रहे हैं। छात्रों की मांग है कि आयु गणना 01 जुलाई 2021 से की जाएं और कोविड काल को देखते हुए कम से कम 2 वर्ष आयु सीमा को बढ़ाया जाएं।* 
  • *2- संघ का कहना है कि प्रदेश की भौगोलिक स्थिति को देखते हुए पटवारी भर्ती में लम्बाई कम की जाएं।*
  • *3-  प्रतियोगी परिक्षाओं के वार्षिक कैलेंडर के लिए एक नियमावली बनाई जाएं।*
  • *4- बैकडोर एंट्री को पूर्णतः बंद किया जाएं।*
  • *5- नई विज्ञप्ति जैसे पुलिस, पीसीएस,ऐई,जेई, आदि को भी जल्द से जल्द जारी की जाएं।*
  • *6- कॉपरेटिव बैंक की भर्ती को पुनः शुरू कर दिया जाएं।*
  • *7- आने वाली वन आरक्षी की भर्ती को डीएफओ के माध्यम से ना कराकर आयोग से करवाई जाए।*
  • *8- विभिन्न विभागों में चयनित हुए अभ्यर्थियों को जल्द ही नियुक्ति दी जाएं।*
  • *9- नॉर्मलईजेशन की नवीन पद्धति को प्रतिबंधित कर प्रत्येक पेपर को एक ही दिन एक ही पाली में संपन्न करवाने हेतु व्यवस्था की जाएं।*
  • *10- उद्यान विभाग में उद्यान सहायकों के रिक्त पदों पर सीधी भर्ती के माध्यम से नियुक्तियां की जाएं।*
  • *11- राज्य के प्राथमिक विद्यालय में डायट प्रशिक्षितों को प्राथमिक विद्यालय में नियुक्तियां दी जाएं। मुख्यमंत्री जी के पीआरओ श्री मुलायम सिंह रावत जी ने आश्वस्त किया है कि जल्द ही बेरोजगार संघ के प्रतिनिधिमंडल की मुलाकात मुख्यमंत्री जी से करवाई जाएगी जिससे समस्या का हल निकल सकें।इस दौरान बेरोजगार संघ के अध्यक्ष बॉबी पंवार, आशुतोष चमोली, अंशुल सिलोड़ी, अंकित पंत आदि लोग मौजूद थे।*