गौ तीर्थ धाम कोटेश्वर में भव्य ज्ञान यज्ञ का समापन

0
शेयर करें

गौ महात्म्य भारतीय संस्कृति का संवाहक-आचार्य लोकेंद्र

कथा आयोजन के लिए धन सिंह व गिरजा शंकर की क्षेत्रवासियों ने की जमकर प्रशंसा

  *वाचस्पति रयाल*नरेंद्रनगर 

नरेंद्रनगर।भगवान घंटाकर्ण की चरण स्थली एवं भागीरथी के तट पर कोटेश्वर स्थित गौ तीर्थ धाम में 1 सप्ताह तक चलने वाला ज्ञान यज्ञ हवन पूर्णाहुति के साथ संपन्न हो गया।
प्रसिद्ध कथावाचक लोकेंद्र दत्त बिजल्वाण ने महाभारत,सुख सागर में वर्णित कई प्रसंगों पर आधारित कथाओं को उद्धृत कर श्रद्धालु भक्तजनों को धर्म,कर्तव्य,काम के प्रति निष्ठा तथा समर्पण के अनेकों प्रसंग सुनाकर भक्ति भावना से ओतप्रोत कर दिया।
कथावाचक आचार्य लोकेंद्र बिजल्वाण ने भगवान श्री कृष्ण द्वारा गोवर्धन पर्वत को उंगली पर उठाकर ग्वाल बालों की रक्षा करना तथा कालिया नाग का मर्दन कर उसके विषैले जहर से यमुना को विष मुक्त करना,कालिया नाग को गरुड़ के भय से मुक्त करना आदि अनेकों प्रसंग सुना कर श्रद्धालु भक्तजनों को कथासार से प्रेरित किया।
ज्ञान यज्ञ में कथावाचकआचार्य ने गौ महात्म्य के अनेकों प्रसंग उद्धृत किए।
उन्होंने गौ माता के महात्म्य पर प्रवचन करते हुए कहा कि स्वप्न में गो अथवा वृषभ के दर्शन से व्याधियों का नाश होता है,जो व्यक्ति गाय की सच्चे मन-इच्छा भाव से लालन-पालन और सेवा करता है, उसके लिए गाय कामधेनु के रूप में सभी इच्छाओं को पूरा करने वाला बताया, प्रवचन करते हुए बताया कि मां शब्द की उत्पत्ति गोवंश से हुई, इसीलिए भारतीय समाज में गाय को गौ माता कहा जाता है। शास्त्रों के अनुसार सृष्टि की रचना के वक्त गाय को ही सबसे पहले ब्रह्मा जी ने पृथ्वी पर भेजा था। गौ पूजा से मनोवांछित फल प्राप्त होते हैं। गौ माता की दुर्दशा पर आचार्य ने चिंता जताई। उन्होंने परिवारों से अनुरोध किया कि घर में गाय का पालन अवश्य करें।

धन सिंह सजवाण तथा गिरजा शंकर की क्षेत्रवासियों ने की जमकर प्रशंसा
गौ तीर्थ धाम कोटेश्वर में ज्ञान यज्ञ के आयोजन कराने में संयोजक की अहम भूमिका निभाने वाले प्रधान संगठन के ब्लॉक अध्यक्ष धन सिंह सजवाण तथा इस कार्य में भरपूर योगदान देने वाले गौ तीर्थ धाम के व्यवस्थापक गिरजा शंकर बिजल्वाण की क्षेत्रवासियों ने जमकर प्रशंसा की है।
कथा श्रवण के लिए श्रद्धालुओं की भीड़ का ताता हफ्ते भर लगा रहा।
कार्यक्रम के संयोजक धन सिंह सजवाण तथा गौ तीर्थ धाम के व्यवस्थापक गिरजा शंकर बिजल्वाण ने इस ज्ञान यज्ञ के कथावाचक आचार्य लोकेंद्र दत्त बिजल्वाण की उच्च कोटी के प्रवचन तथा श्रद्धालु भक्त जनों के सहयोग के लिए सभी का आभार व्यक्त किया है। धन सिंह सजवाण ने क्षेत्र के प्रधानों का सहयोग के लिए आभार व्यक्त किया।
उधर प्रधान संगठन के प्रदेश मीडिया प्रभारी तथा भुटली ग्राम पंचायत के प्रधान आशीष रणाकोटी ने कथा आयोजन मंडली को इस कार्य को करने तथा नव वर्ष की बधाई दी है।
ज्ञान यज्ञ समापन पर विजय प्रकाश बिजल्वाण,कुलवीर सिंह सजवाण, वीर सिंह रावत,विनोद कपरूवाण,बुद्धि सिंह रावत, घंटाकर्ण मंदिर धाम ट्रस्ट समिति के मीडिया प्रभारी नरेंद्र बिजल्वाण,पूर्णानंद बिजवाण, शिवप्रसाद बिजलवाण,रामलाल गैरोला, सोहनलाल बिजल्वाण,विनोद बिजवाण आदि थे।
ज्ञान यज्ञ मार्गदर्शन समिति 7 दिनों तक चलने वाला यह ज्ञान यज्ञ सुनील भगत, संयोजक धन सिंह सजवाण,गौ तीर्थ धाम के व्यवस्थापक गिरजा शंकर बिजल्वाण,कोषाध्यक्ष नंदा सेमवाल, सहयोगी हर्ष पति बिजल्वाण के अलावा कथा स्थल को चाक-चौबंद और साफ करने में कोटेश्वर बांध परियोजना के सी आई एस एफ के कमांडेंट देवेंद्र दत्त शर्मा, सहित उनके अधीनस्थ जवान तथा टीएचडीसी कोटेश्वर के जीएम अनिल घिल्डियाल को सहयोग के लिए ज्ञान यज्ञ समिति तथा क्षेत्र वासियों ने आभार व्यक्त किया है।

About Post Author

Leave a Reply

Your email address will not be published.

You may have missed

रैबार पहाड़ की खबरों मा आप कु स्वागत च !

X