रोमांच के शौकीन हो जाएं तैयार, अब चमोली में उठा सकेंगे जिपलाइन का लुत्फ

शेयर करें

नमिता बिष्ट
रोमांच के शौकीनों के लिए एक बड़ी खुशखबरी है। अब चमोली के देवाल ब्लॉक के लोहाजंग में भी पर्यटक जिपलाइन का लुत्फ उठा सकते है। इससे एक ओर जहां स्थानीय लोगों को रोजगार, तो वहीं एडवेंचर से जुड़े लोगों को आसमान से जमीन को देखना का मौका मिलेगा।

हिमालयन जिपलाइन का शुभारंभ
बता दें कि चमोली का देवाल ब्लॉक अपनी खूबसूरती के लिए हमेशा अलग पहचान रखता है। इस कारण देवाल के प्रसिद्ध पर्यटन स्थल लोहाजंग में हाई एल्टीट्यूड जिपलाइन का शुभारंभ हुआ है। अब आने वाले दिनों में लोहाजंग एक एडवेंचर से भरपूर पर्यटन स्थल बनने वाला है। यह जिपलाइन 7800 फीट की ऊंचाई पर बना है, जिसकी लंबाई 800 मीटर और गहराई 130 मीटर है।

1200 रुपये में लें साहसिक पर्यटन का मजा
वहीं ग्राम सभा मुंदोली की प्रेमा देवी हिमालयन जिपलाइन की संचालिका बताती हैं कि 1200 रुपये के खर्च पर जिपलाइन का लुत्फ उठाया जा सकता है। साथ ही वह बताती हैं कि हिमालयन जिपलाइन का उद्देश्य उत्तराखंड में साहसिक पर्यटन को बढ़ावा देना और रोजगार के नए अवसर पैदा करना है। महिलाएं भी पर्यटन के क्षेत्र में रोजगार के नए अवसर खोज सकती हैं।

पर्यटन के साथ रोजगार के नए अवसर
वहीं गढ़भूमि एडवेंचर के ईओ हीरा सिंह गढ़वाली कहते हैं कि यहां जिपलाइन बनने से भविष्य में पर्यटन की गतिविधियों को बढ़ावा मिलेगा, जिससे स्थानीय लोगों को रोजगार के अवसर के साथ साथ पर्यटक भी 12 महीने हिमालय के विभिन्न नजरों का लुत्फ उठा सकेंगे। हिमालय को करीब से जानने वाले लोगों के लिए तो यह जिपलाइन बेहद सहायक बनेगी और इसके जरिए आसमान से धरती के सुंदर नजारों को भी देख सकेंगे।

साहसिक पर्यटन और सुंदरता के लिए मशूहर चमोली जिला
बता दें कि चमोली जिला साहसिक पर्यटन और सुंदरता के लिए पर्यटकों की नजर में हमेशा बना रहता है। यहां लोहाजंग, ब्रह्मताल, भेकलताल, वेदनी बुग्याल, रूपकुंड ट्रैक, मोनाल ट्रैक, हिलकोट ट्रैक और आली बुग्याल का बेस कैंप है। इस कारण पर्यटन से यहां हजारों लोगों का रोजगार भी जुड़ा है। वहीं जिपलाइन शुरू होने से पर्यटन भी बढ़ेगा।

About Post Author

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *