शर्मनाक:उत्तराखंड में सास और ननद ने की हैवानियत की हदें पार बहू के शरीर को लोहे के गर्म तवे से जलाया: देखें वीडियो

0
शेयर करें

देहरादून में सास और ननद ने की हैवानियत की हदें पार
बहू के शरीर को लोहे के गर्म तवे जलाया
पीड़िता प्रीति की मां ने ससुरालियों के खलाफ नई टिहरी थाने में दी तहरीर
नई टिहरी। जाखणीधार ब्लॉक के रिडोल गांव की विवाहिता प्रीति के साथ ससुराल पक्ष द्वारा मारपीट और दहेज उत्पीड़न के मामले पीड़िता की मां ने ससुराल पक्ष के लोगों के खिलाफ नई टिहरी थाने में तहरीर दी है। एसएसपी ने बताया मामले में पुलिस ने पीड़िता की सास और ननद को गिरफ्तार किया है। पीड़िता का मेडिकल करवाने के बाद उसे उपचार हेतु देहरादून स्थित कोरोनेशन अस्पताल भेजा गया है।
टिहरी जिले के जाखणीधार ब्लॉक के रिडोल गांव की प्रीति (32) की शादी 10 वर्ष पूर्व अनूप जगूड़ी निवासी जीवनगढ़ विकासनगर देहरादून के साथ शादी हुई थी। प्रीति की मां सरस्वती देवी ने नई टिहरी थाने में दी तहरीर में बताया कि शादी के बाद से ही उनकी बेटी को उसकी सास सुभद्रा देवी तथा ननद जया जगुड़ी द्वारा समय-समय पर दहेज के लिये मारपीट की जाती रही है। बताया वर्ष 2017 में जब ससुराल पक्ष की ओर से उनकी बेटी के साथ मारपीट की गई, तो उनकी बेटी मायके आ गई। जिसके बाद पीड़िता के ससुर ने उनके गांव रिडोल आकर लिखित समझौता पत्र देकर उनकी बेटी को ससुराल ले गया,लेकिन इसके बाद भी प्रीति के साथ मारपीट जारी रही। प्रीति की मां ने बताया कि वह 16 सितंबर शुक्रवार को अपने बेटे जितेन्द्र के साथ बेटी का हालचाल जानने उसके ससुराल विकासनगर गई तो प्रीति की सास ने बताया की उनकी बेटी ठीक है,और उसे मिलने नहीं दिया। जबरन कोशिश के बाद जितेन्द्र और उनकी मां प्रीति से मिलने घर के अंदर गये,तो उन्होंने देखा की प्रीति किचन में अचेत अवस्था में पड़ी है। बताया उस दौरान उनकी बेटी के सिर से खून बह रहा था, और शरीर पर जगह-जगह गर्म तवे से जलाने के निशान पड़े थे। प्रीति की मां किसी तरह उसे लेकर अपने गांव रिडोल पहुंची। सोमवार को ग्राम प्रधान मनोज रतूड़ी के साथ प्रीति, प्रीति की मां सरस्वती देवी तथा कई ग्रामीण एसएसपी दफ्तर पहुंचे। एसएसपी नवनीत भुल्लर ने मामले में तत्काल विकासनगर पुलिस को पीड़िता की सास और ननद को गिरफ्तार करने के निर्देश दिये। एसएसपी ने बताया प्रीति की मां की तहरीर के आधार पर पीड़िता के सास और ननद को गिरफ्तार कर लिया गया है, और टिहरी लाया जा रहा है। पुलिस ने जिला अस्पताल बौराड़ी में पीड़िता का मेडिकल करवाने के बाद पीड़िता को उपचार हेतु देहरादून स्थित कोरोनेशन अस्पताल भेजा दिया है।

प्रीति के दो बेटे और एक बेटी है
पीड़िता प्रीति ने बताया कि उसके दो बेटे और एक बेटी है। बड़ा बेटा नौ, बेटी आठ तथा एक बेटा चार साल है, जो उसके ससुराल में हैं। उन्होंने बताया कि उनके ससुर देवेंद्र जगूड़ी आटीबीपी में नौकारी करते हैं, जबकि उनका पति अपून जगूड़ी कोई काम नहीं करता है। लेकिन प्रीति ने अपने पति के खिलाफ पुलिस में किसी प्रकार की कोई शिकायत नहीं की है।

About Post Author

Leave a Reply

Your email address will not be published.

You may have missed

रैबार पहाड़ की खबरों मा आप कु स्वागत च !

X