यूक्रेन रूस की जंग जारी- मां बाप को चिंता कैसी होगी योगिता, कनुप्रिया हमारी-जंग में फंसी चमोली की दो बेटियां- पढ़ें पूरी खबर

0
शेयर करें

संदीप कुमार ,चमोली



चमोली – यूक्रेन युद्ध के बाद भारत सरकार यूक्रेन में रहने वाले भारतीयों को सुरक्षित अपने देश लाने का प्रयास कर रही है l चमोली जिले के दशोली ब्लॉक के मजोठी गांव की योगिता पुत्री हीरा सिंह फर्स्वाण यूक्रेन में है, युद्ध के हालात के बाद योगिता की पिता भी अपनी बच्ची को लेकर चिंतित है उन्होंने बताया कि उनकी बेटी एमडी की पढ़ाई कर रही है उसका फोर्थ ईयर है और यूक्रेन के कीव शहर के तरस कॉलेज में मेडिकल कोर्स कर रही है। उन्होंने सरकार से अपेक्षा कि है कि उनकी बच्ची को सुरक्षित वतन लाया जाए ।
गैरसैण निवासी कनुप्रिया के ताऊ आनन्द सिंह का कहना है कि उनके भाई प्रदीप नेगी की बेटी से उनकी फोन से बात हुई अनुप्रिया ने खुद को सुरक्षित स्थान पर बताया है।. प्रदीप नेगी भारतीय सेना की सिग्नल कोर में सुजान पुर (पठानकोट )में कार्यरत है,
अनुप्रिया यूक्रेन में नेशनल मेडिकल उनिवेर्सित्य यूनिवर्सिटी यूक्रेन मे एमबीबीएस सेकण्ड इयर थर्ड सेमेस्टर की पढाई कर
रही है l
जिलधिकारी हिमांशु खुराना ने बताया कि चमोली जिले की दो छात्राओ के यूक्रेन मे फंसे होने की जानकारी है l इस की जानकारी शासन को भेज दी है l

About Post Author

Leave a Reply

Your email address will not be published.

You may have missed

रैबार पहाड़ की खबरों मा आप कु स्वागत च !

X