यूक्रेन के होटल में कार्यरत ऋषिकेश के हरीश पुंडीर फंसे जंग में – परिजन कर रहे हैं सलामती की दुआ

0
शेयर करें

नीरज गोयल, ऋषिकेश

ऋषिकेश-रायवाला के गौहरीमाफी के वार्ड नंबर 11 निवासी हरीश पुंडीर यूक्रेन की राजधानी कीवी में एक होटल में काम करते हैं। स्वजनों के मुताबिक हरीश के लगातार उनकी बात हो रही है। जहां उनको हरीश ने बताया कि सुबह होने पर उनके होटल से 30 किलोमीटर दूरी पर धमाका हुआ, जिसके बाद से वह होटल से बाहर नहीं निकले। हरीश के मुताबिक उनके आस-पास के क्षेत्र में उत्तराखंड के करीब 500 लोग होटल व अन्य जगहों पर काम करते हैं। जिनमें से दो लोग उत्तराखंड के हैं और उनके साथ ही होटल में कार्यरत हैं। वही हरीश की सकुशल वापसी के लिए उनके पिता राय सिंह पुंडीर व माता उर्मिला ने भारत व उत्तराखंड सरकार से उनकी सकुशल वापसी की गुहार लगाई है। हरीश के परिवार में माता-पिता, उनकी पत्नी और दो बच्चे हैं। हरीश के स्वजन काफी चिंतित दिखाई दिए। ग्राम प्रधान रोहित नौटियाल ने बताया कि उनकी हरीश से लगातार बात हो रही है। वहां पर सकुशल है, लेकिन भारत सरकार की तरफ से अभी तक उनसे कोई संपर्क नहीं किया गया है। ग्राम प्रधान के मुताबिक हरीश को यह भी पता नहीं है कि भारत जाने के लिए वह कैसे एयरपोर्ट तक पहुंचे।
हरीश ने स्वजनों को फोन पर बताया कि उनको प्रधानमंत्री मोदी पर भरोसा है। उन्होंने स्वजनों को चिंतित न होने के लिए कहा। उन्होंने यह भी बताया कि कुछ दिन पहले जब तनाव का माहौल बनना शुरू हुआ तो फ्लाइट के लिए टिकट के दाम अचानक बढ़ गए। भारत आने के लिए एक लाख रूपये का टिकट लेना पड़ा। वहीं हरीश की माता का कहना है कि बेटे की सकुशल वापसी के लिए पैसे जुटाने के लिए वह गहने तक बेचने को तैयार हैं।

About Post Author

Leave a Reply

Your email address will not be published.

You may have missed

रैबार पहाड़ की खबरों मा आप कु स्वागत च !

X