Chardham Yatra 2023: ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन नहीं होगा जबतक, यात्रा नहीं कर पाओगे तब तक, घर बैठे कैसे करें अप्लाई,ये दस्तावेज हैं जरूरी,जानें पूरी खबर

0
शेयर करें


इस बार चारधाम यात्रा की शुरुआत 22 अप्रैल से होगी। केदारनाथ धाम के कपाट 25 अप्रैल को तो बदरीनाथ के 27 अप्रैल को खुलेंगे जबकि परंपरा के अनुसार 22 अप्रैल को अक्षय तृतीया के दिन गंगोत्री व यमुनोत्री धाम के कपाट खुलेंगे। हालांकि मंदिर समितियों की ओर से कपाट खुलने का समय और तिथि घोषित की जाएगी। तो, जो भी भक्त चार धाम की यात्रा करना चाहते हैं। उन्हें जल्द से जल्द रेजिस्ट्रेशन कराना होगा। इसके लिए तीर्थयात्रियों के आज से ऑनलाइन पंजीकरण शुरू हो गए हैं। पर्यटन विभाग का पोर्टल सुबह सात बजे खुल गया है।

ऐसे करें पंजीकरण

• पर्यटन विभाग की वेबसाइट registrationandtouristcare.uk.gov.in

• व्हाट्सअप नंबर 8394833833

• टोल फ्री नंबर 1364 के जरिये आप रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं।

ये दस्तावेज जरूरी

• आधार कार्ड

• पासपोर्ट साइज फोटो

• और सही मोबाइल नंबर

चारधाम यात्रा की तैयारियों की समीक्षा

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी की अध्यक्षता में आज चारधाम यात्रा तैयारियों को लेकर समीक्षा बैठक की जा रही है। इस दौरान यात्रा को लेकर कई महत्वपूर्ण निर्णय लिए जाएंगे। पिछले साल चारधामों में उमड़ी श्रद्धालुओं की भीड़ को देखते हुए इस बार दर्शन के लिए प्रतिदिन श्रद्धालुओं की संख्या को बढ़ाने का फैसला हो सकता है। हालांकि पर्यटन विभाग ने पिछली यात्रा के अनुभव के आधार पर केदारनाथ धाम के लिए प्रतिदिन 15 हजार, बदरीनाथ के लिए 18 हजार, गंगोत्री के लिए 9000, यमुनोत्री के लिए 6000 संख्या तय करने का प्रस्ताव बनाया है। इस पर बैठक में फैसला लिया जाएगा।

व्यवस्था चाक चौबंद करने पर फोकस


इसके अलावा चारधाम यात्रा मार्गों पर स्वास्थ्य सुविधा, केदारनाथ धाम में यात्रियों के ठहरने, बदरीनाथ व केदारनाथ धाम में वीआईपी दर्शन के लिए शुल्क तय करने, बसों का प्रबंधन, घोड़ा खच्चरों का स्वास्थ्य परीक्षण करने, पैदल मार्गों पर गरम पानी की व्यवस्था, शेड, बिजली व पेयजल की आपूर्ति, सड़कों की मरम्मत समेत कई व्यवस्थाओं पर निर्णय लिया जाएगा।

About Post Author

Leave a Reply

Your email address will not be published.

You may have missed

रैबार पहाड़ की खबरों मा आप कु स्वागत च !

X