बड़ी खबर-पीएम मोदी ने गढ़वाळी में की भाषण की शुरुआत-म्यरा-दाना स्याणों दीदी भूळियों तैं में सेवा लगाणू छों- इसके साथ कहीं ये बड़ी बातें

0
शेयर करें

देहरादून. इस दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) ने उत्तराखंड में 18,000 करोड़ रुपये की विकास परियोजनाओं का शिलान्यास तथा लोकर्पण किया. इस दौरान प्रधानमंत्री ने अपने संबोधन की शुरूआत गढ़वाली में की. मोदी ने कहा, सभी दाना स्याणों, दीदी भुलीयों तें प्रणाम.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि बीते 5 सालों में केंद्र ने 1 लाख करोड़ से अधिक परियोजनाएं स्वीकृत की हैं. यहां की सरकार इन योजनाओं को तेजी से जमीन पर उतार रही है. इसी के अंर्तगत स्वास्थ्य, सड़क, संस्कृति, बिजली, बच्चों के लिए चाइल्ड सिटी प्रोजेक्ट जुड़े हैं. ये परियोजनाएं इस दशक को उत्तराखंड के दशक बनाने में बहुत भूमिका निभाएंगी.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि जो लोग पूछते है कि डब्बल इंजन की सरकार का क्या फायदा है, वे इन इन परियोजनाओं को देखें. मोदी ने कांग्रेस की पिछली सरकारों पर भी जमकर प्रहार किया. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि आज भारत की नीति गति शक्ति की है और भारत नवनिर्माण में जुटा है.


प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी के संबोधन की जरूरी बातें

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भाजपा सरकार और पूर्ववर्ती कांग्रेस सरकार के कार्यों की तुलनात्मक जानकारी दी.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि हमारी सरकार 12000 करोड़ खर्च कर चुकी है.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा हमने काम करके दिखाया.

इन कामों से श्रमिक, इंजीनियर, सामान लगता है इससे रोजगार मिलता है. 

आज मैं गर्व से कह सकता हूं उत्तराखंड कु पाणी अर उत्तराखंड क काम ही आली.

इन परियोजनाओं से उत्तराखंड के युवाओं की तकदीर खुलेगी.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा आपका सपना पूरा करने के लिए दिन रात मेहनत कर रहे हैं.

अब सरकार सीधे नागरिकों के पास जाती थी.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा आज उत्तराखंड में कीचन तक जल पहुंच रहा है.

उत्तराखंड की माताओं, बहनों का ऋण चुकाने का प्रयास कर रही सरकार.

उत्तराखंड में तीन नए मेडिकल कालेज दिए गए हैं.

टीकाकरण के लिए उत्तराखंड अग्रणी राज्यों में, इसके लिए धामी सरकार को बधाई दी.

मोदी ने सिर्फ वोट बैंक के लिए कुछ खास दलों पर भी वार किया.

 

About Post Author

Leave a Reply

Your email address will not be published.

You may have missed

रैबार पहाड़ की खबरों मा आप कु स्वागत च !

X