देहरादून :कलश यात्रा के साथ राजेश्वरी पुरम में आज से शुरू हुई श्रीमद् भागवत, आचार्य शिव प्रसाद ममगाईं की अमृत वाणी सुनने के लिए उमड़ा भक्तों का सैलाब

0
शेयर करें

कर्तव्य बोध होना ही ज्ञान हैआचार्य ममगांई*
प्रधानता कर्तव्य को देनी चाहिए , भोग को नहीं भोग प्रधान होने पर संसार की नजदीकी होती है जबकि कर्तव्य बोध होना होना ज्ञान है जिसके द्वारा स्वयं का कल्याण दुसरे का हित आवश्यक होजाता है, राजेश्वरी पुरम देहरादून में भट्ट परिवार के द्वारा स्थानीय लोगों के सहभागिता से एक ग्राउण्ड में आयोजित श्रीमद्भागवत कथा के प्रथम दिन ज्योतिष्पीठ व्यास पदाल॔कृत आचार्य शिवप्रसाद ममगांई नें भक्तों सम्बोधित करते हुए शकहा कि जीवन मे मनुष्य आसक्ति रहित कर्म में वर्ताव करता है स्वभाव सुविचार की सुगंध जब आ जाये जीवात्मा परमात्मा का पिता पुत्र जैसा सम्बन्ध है पिता पालन से कामयाबी तक व्यवस्था करते हैं वैसे परमात्म हमारे आनें सू पहले मां का दूध तैयार रखते हैं जीवन भर पालन भोजन कभी भूखा नहीं रखेगें निकला व्यक्ति की भी व्यवस्था करते हैं जो कुछ नहीं करता वह पशु के समान है इसलिए शंकर रूप में भगवान बोलते हैं एक नाम मेरा पशुपति है जो दरिद्र है वहां भगवान सुधामा जी को मिलनेके बाद भगवान कहते हैं मेरा एक नाम दरिद्र नारायण है सरल स्वभाव को गौकर्ण कहते हैं जबकि दुसरे का अहित भावना व्यसनं सक्त जीवन को धुन्धकारी कहते हैं ।मनुष्य का व्यवहार भी प्रेम युक्त होता है समस्त प्राणियों के अंतःकरण की अशुद्धि ही स्व का अनहित होना आवश्यक होता है अनहित उपदेशक गुरु मन ही है धुंधकारी रूपी आत्मा सब्द स्पर्श रूप रस गंध वेश्याओं की आसक्ति चोरी बुरे कर्म के लिए अनहित उपदेशक ये पांचों वेश्याएँ गुरु है काम क्रोध आदि सप्त ग्रंथि में जीव फंसता है पुनः ज्ञान प्रकाश से जीव मुक्त हो सकता है भागवत जी के मूल में भक्ति का मतलब परमात्मा से जुड़ाव और धुंधकारी का मतलब द्वेष पूर्ण गौकर्ण जैसे सरल व्यक्ति से भव रोग से तारने वाली औषधि रूप श्रीमद्भागवत की कथा दोषों को मिटाने के बाद परम् लक्ष्य की प्राप्ति कराती है आज प्रातः कलश यात्रा शिव मंदिर मोकमपुर से 108 महिलाओं के द्वारा पीत वस्त्रों में सिर पर कलश लिए हुए गोविद बोलो हरि गोपाल बोलो भजन गाते हुए कथा पंडाल में पहुंचीजहां पर पुराण पूजन व्यास पूजन ठाकुर जी के पूजन के साथ प्रथम दिवस की कथा प्रारम्भ हुई
आज विशेष रूप से सतीश भट्ट सुनीता भट्ट प्रदेश अध्यक्ष महिला मोर्चा पूर्व विधायक केदार नाथ श्रीमती आशा नौटियाल रमेश नौटियाल भाजपा नेत्री कमला बगवाडी बीना देवी कमला भट्ट सतीश चंद्र भट्ट सुनीता भट्ट शर्मिष्ठा भट्ट जगदीश भट्ट उषा भट्ट राजेश भट्ट प्रीति भट्ट चैतन्य भट्ट रविंद्र भट्ट सोमावती भट्ट अभिमन्यु गणेश सुमन निहारिका शौर्य हरीश भट्ट अद्विक अतिक्ष भट्ट जगदीश पंत आदि भक्त गण भारी संख्या में उपस्थित थे!!

About Post Author

Leave a Reply

Your email address will not be published.

You may have missed

रैबार पहाड़ की खबरों मा आप कु स्वागत च !

X