July 13, 2024

उर्मी नेगी ने एक और सफलता की अपने नाम, ‘सुबेरौ घाम-2’ फिल्म के लिए मिला दादा साहेब फाल्के पुरस्कार

शेयर करें

राज्य की होनहार बेटियां आज किसी भी क्षेत्र में पीछे नहीं है। अपनी मेहनत और काबिलियत के दम पर वह ऊंचे- ऊंचे मुकाम हासिल कर पूरे प्रदेश का मान बढ़ा रही है। ऐसे ही राज्य का नाम देश विदेश में रोशन करने वाली अदाकारा उर्मी नेगी को  दादा साहेब फाल्के पुरस्कार से नवाजा गया है। पौड़ी जनपद की रहने वाली उर्मी नेगी को  सुबेरौ घाम-2 के लिए दादा साहेब फाल्के पुरस्कार से मिला है।

electronics

आपको बता दें उर्मी नेगी गढ़वाली फिल्मों की चर्चित अभिनेत्री निर्माता निर्देशक हैं, जिन्हें वर्ष 2023 के दादा साहेब फाल्के पुरस्कार से नवाजा गया है और यह पुरस्कार उन्हें क्षेत्रीय फिल्म श्रेणी सुबेरौ घाम- 2 के लिए दिया गया है। यह पुरस्कार उन्हें मुंबई में महाराष्ट्र इंटरनेशनल फिल्म फेस्टिवल ऑर्गेनाइजेशन एमबी इंटरप्राइजेज की ओर से आयोजित कार्यक्रम में प्रदान किया गया है।

फिल्म निर्माता, निर्देशक, अभिनेत्री उर्मी ने फ्योंली, सुबेरौ घाम व बथौं जैसी चर्चित गढ़वाली फिल्माें में अभिनय के साथ ही निर्माता-निर्देशक व पटकथा लेखन भी किया है। उर्मी की फिल्मों में पहाड़ के युवाओं को रोजगार की तलाश में महानगरों की ओर रुख करना, पहाड़ में बढ़ती नशेवृत्ति को अपने फिल्मों के जरिए दर्शाया गया है।

प्राप्त जानकारी के अनुसार गढ़वाली फिल्म सुबेरौ घाम को कनाडा फिल्म फेस्टिवल में भी सर्वश्रेष्ठ क्षेत्रीय फिल्म के लिए चुना गया। उर्मी के निर्देशन में दर्शकों को पहाड़ के शानदार दृश्य देखने व स्थानीय गीत संगीत सुनने को मिले साथ ही गढ़वाली फिल्मों के निर्माण के लिए राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय पुरस्कार भी उर्मी को प्राप्त हुए। इतना ही नहीं उर्मी नेगी ने बॉलीवुड के सदाबहार अभिनेता देवानंद, राजेश खन्ना और मिथुन चक्रवर्ती के साथ बाल कलाकार के रूप में भी काम किया है। वही उत्तराखंड की फिल्मों के निर्देशक गणेश वीरान समेत रंगमंच के कलाकारों ने इसे उत्तराखंड फिल्म इंडस्ट्री के लिए सबसे बड़ी उपलब्धि बताया है और कहा कि इससे राज्य की फिल्मों को राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय फलक पर नई पहचान मिलेगी।

About Post Author

You may have missed

रैबार पहाड़ की खबरों मा आप कु स्वागत च !

X