Big breaking- घनसाली के अखोडी गांव के सात वर्षीय बच्चे को निवाला बनाने वाला गुलदार को शूटरों ने किया ढ़ेर – लोगों ने ली राहत की सांस

0
शेयर करें

वाचस्पति रयाल; नरेन्द्रनगर

घनसाली: टिहरी जिले की विधानसभा घनसाली के अखोड़ी गांव में बीते शनिवार सायं को 7 वर्षीय मासूम बच्चे नवीन रावत पुत्र सोहन सिंह रावत को गुलदार द्वारा निवाला बनाने वाले आदमखोर गुलदार को सोमवार देर रात ढेर कर दिया गया है।
आदमखोर गुलदार को शूटरों की टीम द्वारा ढ़ेर कर दिये जाने की खबर लगते ही भिलंगना घाटी के लोगों ने राहत की सांस ली है;
बताते चलें कि इलाके में इस आदमखोर गुलदार की दहशत से लोग सायं 6 बजे से सुबह 8बजे तक घरों में दुबकने को मजबूर थे।
क्षेत्र के लोगों की मांग पर क्षेत्र में आदमखोर गुलदार को ढेर करने के मकसद से शूटरों की तैनाती की गई थी,
सोमवार रात्री को वन विभाग के जाने-माने शूटर गंभीर सिंह भंडारी व साथी, आदमखोर गुलदार को ढेर करने के मकसद से मोर्चा संभाले हुए थे, आदमखोर गुलदार की आहट मिलते ही शूटर गम्भीर सिंह भंडारी ने गुलदार पर निशाना साधते हुए उसे ढ़ेर कर दिया;
अक्सर शांत रहने वाली भिलंगना घाटी बीते शनिवार सायं को हुई इस दिल दहलाने वाली घटना के बाद से बेहद खौफजदा हो गई थी;
यहां घर के आंगन से एक सात वर्षीय बच्चे को गुलदार उठाकर ले गया। बच्चे का शव गांव के पास झाड़ियों में मिला था,इस दुःखद घटना के बाद वन विभाग मौके पर पहुंचा और इलाके में शूटर तैनात किये।
बता दें कि भिलंगना ब्लॉक के अखोड़ी क्षेत्र में पिछले तीन दिनों से लाइट न होने का फायदा यहां गुलदार ने उठाया, और 7 वर्षीय मासूम बच्चे को गुलदार ने अपना निवाला बना दिया।
इस घटना से ही बच्चे के घर में कोहराम मच गया और क्षेत्र में दहशत का माहौल बन गया,
लोग मारे दहशत के घरों में दुबकने को मजबूर थे,
घटना की खबर मिलते ही वन विभाग की टीम रात्रि को ही गांव पहुंच गई थी और गुलदार को ढेर करने के आदेश मिलते ही तत्काल मौके पर सूटरों की तैनाती कर दी गई थी,
शनिवार को हुई इस दुखद घटना के बाद उसी रात्रि को मौके पर पहुंची वन विभाग की टीम व ग्रामीणों ने बच्चे की खोजबीन शूरू की तो बच्चे का क्षत-विक्षत शव झाड़ियों में मिला।
वहीं, सोमवार देर रात गुलदार को वन विभाग के शूटर ने ढेर कर दिया। अब इलाके के लोगों ने चैन की सांस ली है। इलाके में आदमखोर गुलदार की चहल-कदमी के कारण क्षेत्र में दहशत का माहौल था।

About Post Author

Leave a Reply

Your email address will not be published.

You may have missed

रैबार पहाड़ की खबरों मा आप कु स्वागत च !

X